कुन्नूर हेलीकॉप्टर हादसा: ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का भोपाल में होगा अंतिम संस्कार

भोपाल: तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलीकॉप्टर हादसे के 7 दिन बाद दम तोड़ने वाले ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह अंतिम संस्कार भोपाल में किया जाएगा। जानकारी भोपाल कलेक्टर अभिनाश लवानिया ने दी। उन्होंने बताया कि कल दोपहर यानी 16 दिसंबर 2.30 बजे सेना के विमान से उनकी पार्थिव देह भोपाल आएगी। एयरपोर्ट रोड सनसिटी कॉलोनी में श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा जाएगा। 17 दिसंबर शुक्रवार सुबह 11 बजे भदभदा विश्राम घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा।

आपको बता दें कि तमिलनाडु के कुन्नूर के पास हुए हेलीकॉप्टर हादसे में एक मात्र जीवित बचे वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह का बुधवार को निधन हो गया। वायुसेना ने ट्वीट करके यह जानकारी दी। 8 दिसंबर को हुए इस दर्दनाक हादसे में देश के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) जनरल विपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य सैन्य कर्मियों की जान चली गई थी। वरूण सिंह इकलौते शख्स थे जो इस हादसे के बाद जिंदगी और मौत से जूझ रहे थे। उनका बेंगलुरु के सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा था। पिछले गुरुवार को ग्रुप कैप्टन सिंह को तमिलनाडु के वेलिंगटन से बेंगलुरु के कमांड अस्पताल में स्थानांतरित किया गया था।

गौरतलब है कि गैलेंट्री अवॉर्ड विनर ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह सैन्य परिवार से आते थे। उनका परिवार तीनों सेनाओं से जुड़ा है- जल , थल और वायु । ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह इंडियन एयरफोर्स से थे। उनके पिता रिटायर्ड कर्नल केपी सिंह आर्मी एयर डिफेंस (AAD) रेजिमेंट में थे और मध्य प्रदेश के भोपाल में पत्नी समेत रहते हैं। कर्नल केपी सिंह के दूसरे बेटे लेफ्टिनेंट कमांडर तनुज सिंह इंडियन नेवी में हैं। वरुण का परिवार मूलरूप से उत्तर प्रदेश के देवरिया का रहने वाला है। वहां परिवार के अन्य सदस्य रहते हैं। वरुण के पिता केपी सिंह भोपाल की कोर 24 से रिटायर्ड होने के बाद यहीं बस गए। वे भोपाल की एयरपोर्ट स्थित सनसिटी कॉलोनी के इनरकोर्ट अपार्टमेंट की पांचवी मंजिल पर रहते हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...