Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

दरभंगा में बोले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार – बिहार में एक साथ पढ़ेंगे लड़के और लड़िकयां

पटना। कुशेश्वरस्थान सीट पर उपचुनाव में जीत दर्ज करने के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दरभंगा पहुंचे। जानकारी के मुताबिक सीएम दो दिनों के मिथिलांचल के दौरे पर हैं।कुशेश्वरस्थान के हिरणी में जन संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि, क्या क्या कमी है ये सब देखने आए हैं। पहले क्या हालात थे अब कितना कुछ बदला है। बाढ़ की समस्या यहां सबसे ज्यादा है। इसलिए खेती नहीं हो पाती। लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि यहां की जमीन बहुत अच्छी है। उन्होंने कहा कि बिहार में लड़के और लड़कियां एक साथ पढ़ेंगी।

महिलाओं ने पौधा देकर किया स्वागत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का महिलाओं ने पौधे देकर स्वागत किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का लक्ष्य है कि हर गांव को पक्क सड़क से जोड़ना। जिले में क्या क्या समस्या है सबको देखने के लिए विभाग के लोग आए हैं। हर परेशानी को दूर किया जाएगा।

इस दौरान सीएम नीतीश कुमार ने दरभंगा में एम्स निर्माण की समीक्षा भी की। दरभंगा के कुशेश्वरस्थान में नरैला चौर के लिए नाला उड़ाहीकरण का निरीक्षण किया और संबंधित अधिकारियों को इससे जुड़े आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने पूर्वी प्रखंड के लिए प्रस्तावित भूमि का निरीक्षण भी किया। सीएम कुशेश्वरस्थान स्थित नंदकिशोर उच्च विद्यालय हिरणी भी गए। वहीं पहुंचकर उन्होंने परिस्थितियों के अनुरूप जलीय पौधों का माडल एवं जलवायु परिवर्तन अनुकूल खेती के माडल का निरीक्षण किया।

गौरतलब है कि कुशेश्वरस्थान उपचुनाव के दौरान स्थानीय नागरिकों ने जलजमाव और सड़की व्यवस्था की समस्या को प्रमुखता से उठाया था। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार को वे मधुबनी जिले का दौरा करेंगे। इस दौरान वे जयनगर पर कमला पर बराज और तटबंधों पर 80 किलोमीटर सड़क निर्माण का कार्यारंभ करेंगे। बताया जाता है कि यह मिथिलांचल के लिए बड़ी सौगात होगी। बराज के निर्माण किसानों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी वहीं तटबंध पर बनने वाली सड़कें स्थानीय लोगों के लिए मददगार साबित होंगी इसके साथ ही इससे तटबंधों को मजबूती भी मिलेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.