Logo
ब्रेकिंग
बैंक हड़ताल कैंसिल, फाइव डे वीक समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा सीएम शिवराज सिंह चौहान उज्जैन सोशल मीडिया कान्क्लेव में हुए शामिल अमित शाह कल करेंगे चुनावी राज्य कर्नाटक का दौरा अपनी छोड़ सारे जहां की चिंता कर भोपाल के विद्यार्थी ने जीता पीएम मोदी का मन दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस, वायु गुणवत्ता ‘खराब' श्रेणी में बजट से पूर्व भारत को US फार्मा उद्योग की सलाह- दवा क्षेत्र के लिए बनाए अनुसंधान एवं विकास नीति Corona Update: भारत में दम तोड़ रहा कोरोना, 24 घंटे में 100 से भी कम नए केस सड़क का खंबा नहीं होता तो अंधगति से आ रहे ट्रक थाना मोबाइल को ठोकता हुआ अंदर होता, cctv में दिखा कैसे... MP: मुरैना में बड़ा हादसा, वायुसेना का सुखोई-30 और मिराज हुए क्रैश सूरत के उधना इलाके में कार शोरूम में लगी भीषण आग

बिहार के मंत्री शाहनवाज हुसैन से मिलने पहुंचे पूर्व सांसद पप्पू यादव

पटना: बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन से मंगलवार को पूर्व सांसद पप्पू यादव ने मुलाकात की। मुजफ्फरपुर में नूडल बनाने वाली एक फैक्ट्री में बायलर फटने से सात मजदूरों की मौत के मामले पर जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने राज्य के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन से मुलाकात की। उन्होंने बायलर ब्लास्ट कांड में शामिल सभी लोगों पर कानून कार्रवाई की मांग की। पप्पू यादव ने कहा पीड़ित परिवारों को सरकार की तरफ से  कम से कम 10 लाख की सरकारी मदद की जाए। पप्पू ने कहा कि जन अधिकार पार्टी अपने पार्टी फंड से सभी मृतक आश्रितों को 25 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी।

मृतकों की संख्या छिपा रही कंपनी

पप्पू यादव ने कहा कि बायलर पुराना था, इसका लाइसेंस भी खत्म हो गया था। फिर भी कंपनी मालिक बायलर को चला रहा था। जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि इस कांड में मृतकों की संख्या को कंपनी छिपा रही है। घटना के तुरंत बाद लेबर रजिस्टर को गायब कर दिया गया। उन्होंने शाहनवाज से इस घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है, जिससे कि मरने वालों के संख्या सही जानकारी मिल सके।

रविवार को मुजफ्फरपुर में हुआ था हादसा

बता दें कि दो दिन पहले रविवार को बिहार के मुजफ्फरपुर में बेला इंडस्ट्रियल एरिया, फेज-टू स्थित नूडल्स फैक्ट्री का बायलर फट गया था। यह हादसा अंशुल स्नैक्स एंड विवरेज प्रा.लि. का में हुआ था। सुबह-सुबह हुए हादसे में सात लोगों की मौत हो गई थी। वहीं 12 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। धमाका इतना जोरदार था कि करीब पांच किलोमीटर के क्षेत्र में भूकंप की तरह झटका भी महसूस किया गया। दुर्घटना से आसपास की दो अन्य फैक्ट्रियां ध्वस्त हो गईं तथा कई फैक्ट्रियों की दीवारें हिल गईं। हालांकि बायलर कैस फटा? यह स्पष्ट नहीं हो सका।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.