Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

साउथ अफ्रीका को जोरदार झटका, 29 साल की उम्र में स्टार बल्लेबाज ने कर दी टेस्ट से संन्यास की घोषणा

नई दिल्ली। साउथ अफ्रीका के धुरंधर विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकाक ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही तीन मैचों की सीरीज में अब हिस्सा नहीं लेंगे। उन्होंने तत्काल प्रभाव से टेस्ट क्रिकेट को छोड़ने की घोषणा की है। सेंचुरियन टेस्ट में भारत के खिलाफ गुरुवार को पहले टेस्ट मैच में साउथ अफ्रीका की टीम को 113 रन से हार का सामना करना पड़ा।

साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने अपने इस स्टार क्रिकेटर के संन्यास की जानकारी तमाम चाहने वालों के साथ साझा की। 29 साल के डिकाक ने साउथ अफ्रीका के लिए 54 टेस्ट मैच खेलते हुए कुल 3300 रन बनाए। 6 शतक और 22 अर्धशतक बनाने वाले इस बल्लेबाज ने फरवरी 2014 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। इस फार्मेट में डिकाक के नाम 141 रन की नाबाद सर्वश्रेष्ठ पारी रही। विकेट के पीछे भी डिकाक का योगदान बहुत कमाल का रहा। 54 मैचों में कुल 232 शिकार किए, जिसमें से 221 कैच और 11 स्टंप रहे।

डिकाक ने संन्यास लेते हुए कहा, यह कोई ऐसा फैसला नहीं है जिसे मैंने आसानी से ले लिया। मैंने इस फैसले को लेने से पहले काफी ज्यादा सोचा कि मेरा भविष्य कैसा होने वाला है और इस वक्त जो जीवन में प्राथमिकता देने की चीज है यह बात है कि साशा और मैं अपने पहले बच्चे को इस दुनिया में लाने जा रहे हैं। हम अपने परिवार को इसके आगे ले जाने पर विचार कर रहे हैं। मेरा परिवार मेरे लिए सबकुछ है और मैं चाहता हूं कि यह सारा वक्त उनको मिले और इस समय में उनके साथ नए और उत्साहित करने वाले अध्याय को अपने जीवन में लिखें।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.