Logo
ब्रेकिंग
असम सरकार बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र का करेगी विस्तार PM Modi राजस्थान का करेंगे चौथा दौरा बाइडेन प्रशासन का दावा- अमेरिका के लिए भारत महत्वपूर्ण साझेदार गोवा में बिना इजाजत पर्यटकों के साथ नहीं ले पाएंगे सेल्फी? बाइडेन प्रशासन का दावा- अमेरिका के लिए भारत महत्वपूर्ण साझेदार बड़वानी जिले में हादसा, वाहन को धक्‍का लगा रहे लोगों को ट्रक ने रौंदा, तीन लोगों की मौत पठान फ़िल्म के विरोध के दौरान आपत्तिजनक नारेबाजी करने वाले हिन्दू संगठन के कार्यकर्ताओं को भेजा जेल मासूम बच्चों और पत्नी की हत्या के आरोपित पति व दोस्त को भेजा जेल 'भारत जोड़ो यात्रा' में शामिल हुईं PDP चीफ महबूबा मुफ्ती, हाफ जैकेट व टोपी पहने दिखे राहुल गांधी भोपाल के दीपेश और रितिका ने पूछा प्रधानमंत्री से सवाल, मिला यह जवाब

शाकंभरी बोर्ड के अध्यक्ष पटेल ने लगाई चौपाल

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ शाकंभरी बोर्ड के अध्यक्ष रामकुमार पटेल ने मुंगेली जिले में भ्रमण कार्यक्रम के दौरान नये साल में जिले के विकासखंड मुंगेली के ग्राम बाघामुड़ा स्थित उद्यान विभाग के रोपणी में चौपाल लगाई।

इस दौरान उन्होंने चौपाल में कृषकों से उद्यानिकी, कृषि विभाग की योजनाओं, खरीफ एवं रबी मौसम में किए जा रहे कार्यों के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। चौपाल में रामकुमार पटेल ने कहा कि राज्य शासन द्वारा लद्यु एवं सीमांत कृषि को लाभाविंत करने के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है।

योजनाओं का लाभ लेकर आर्थिक रूप से सक्षम बनने की बात कहीं। चौपाल में पटेल ने किसानों को नदी के किनारे सामूहिक बाड़ी करने के साथ-साथ उद्यानिकी फसलों की खेती करने की बात कहीं। इसी तरह उन्होंने विभाग के अधिकारियों से बाड़ी विकास योजना के तहत लद्यु एवं सीमांत किसानों को लाभाविंत करने के भी बात कहीं।

इस अवसर पर उन्होंने कृषकों को पैक हाउस, फलदार वृक्ष, पुष्प और साग-सब्जी की खेती करने के फायदे के संबंध में जानकारी दी। चौपाल में कृषक रघुनदंन यादव ग्राम प्रतापपुर के द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा 70 हजार रुपये की टमाटर को बेचा गया है। वे चार साल से खेती करते हुए विभाग की योजनाओं का लाभ लेते हुए उद्यानिकी फसलों की खेती जैसे शेडनेट, ड्रिप जैसे योजनाओं का लाभ लिया है। उनके द्वारा साग-भाजी की सफलता पूर्वक खेती कर अपने आर्थिक स्तर को सुदृढ़ किया है। इसी तरह कृषक बसंत साहू ग्राम सुरदा से जो पहले कपड़े के दुकान पर कार्य करते थे जिसे छोड़कर उद्यानिकी विभाग का लाभ लेकर उद्यानिकी फसल के तहत बैगन की खेती कर उनके द्वारा पांच लाख रुपये का बैगन का विक्रय किया गया है।

इसी अनुक्रम में कृषक प्रताप पटेल ग्राम देवरी ने बताया कि उनके द्वारा सेमी की खेती किया जा रहा है। उनके द्वारा सेमी बेच कर 30 हजार से 50 हजार रुपये लाभ कमाया जा रहा है। इसी तरह अन्य किसानों ने भी उद्यानिकी फसलों से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में कृषकगण मौजूद थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.