Logo
ब्रेकिंग
अमित शाह कल करेंगे चुनावी राज्य कर्नाटक का दौरा अपनी छोड़ सारे जहां की चिंता कर भोपाल के विद्यार्थी ने जीता पीएम मोदी का मन दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस, वायु गुणवत्ता ‘खराब' श्रेणी में बजट से पूर्व भारत को US फार्मा उद्योग की सलाह- दवा क्षेत्र के लिए बनाए अनुसंधान एवं विकास नीति Corona Update: भारत में दम तोड़ रहा कोरोना, 24 घंटे में 100 से भी कम नए केस सड़क का खंबा नहीं होता तो अंधगति से आ रहे ट्रक थाना मोबाइल को ठोकता हुआ अंदर होता, cctv में दिखा कैसे... MP: मुरैना में बड़ा हादसा, वायुसेना का सुखोई-30 और मिराज हुए क्रैश सूरत के उधना इलाके में कार शोरूम में लगी भीषण आग रूठों को मनाने के लिए कांग्रेस चलाएगी घर वापसी अभियान ‘मूड ऑफ दि नेशन सर्वे’ में बजा CM योगी का डंका, 39.1 फीसदी लोगों ने माना बेस्ट परफॉर्मिंग चीफ मिनिस्...

छत्तीसगढ़ में मिले कोरोना के 2,400 नए मरीज, रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, रायगढ़ में सर्वाधिक मामले

रायपुर। राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक समेत प्रदेश में 2,400 कोरोना पाजिटव मरीज मिले हैं। कोरोना संक्रमित होने की जानकारी इंटरनेट मीडिया के माध्यम से देते हुए कौशिक उनके संपर्क में आए लोगों आइसोलेट होने व लक्षण के आधार पर जांच कराने की अपील की है। बताया जा रहा है कि कौशिक निवास व कार्यालय में कार्यरत कई अन्य कर्मचारियों के संक्रमित होेने की आशंका है। ऐसे में उन्हें भी होम आइसोलेट होने को कहा गया है।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक रायपुर में 752, बिलासपुर में 326, दुर्ग में 314, रायगढ़ में 247, कोरबा में 122, जांजगीर-चांपा में 126, जशपुर में 144 समेत अन्य जिलों में कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है। इसके साथ ही प्रदेश में 48 हजार 892 सैंपल जांच व मिले संक्रमितों के साथ औसत पाजिटिविटी दर 4.92 फीसद रहा। अब तक मिले 10 लाख 14 हजार 528 संक्रमितों में प्रदेश में 6,905 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं प्रशासन मास्क न लगाने वालों की जांच कर जुर्माना वसूल रहा है।

कोरोना मीटर

नए – 2,400

सक्रिय – 6,905

स्वस्थ – 9,94,017

मौत – 13,606

कुल – 10,14,528

आज जांच – 48,832

तीसरे लहर से नहीं कर सकते इन्कार

कोरोना मरीजों की संख्या जिस तेजी से बढ़ रही है, उसे देखते हुए तीसरी लहर से इन्कार नहीं किया जा सकता है। अब तक जो केस आ रहे हैं, उनमें गंभीर रोगी भले ही कम हों, लेकिन कोरोना से बचाव के लिए कड़ाई से सावधानी बरतें।

-डा. ओपी सुंदरानी, क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ, डा. भीमराव आंबेडकर अस्पताल

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.