Logo
ब्रेकिंग
अमित शाह कल करेंगे चुनावी राज्य कर्नाटक का दौरा अपनी छोड़ सारे जहां की चिंता कर भोपाल के विद्यार्थी ने जीता पीएम मोदी का मन दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस, वायु गुणवत्ता ‘खराब' श्रेणी में बजट से पूर्व भारत को US फार्मा उद्योग की सलाह- दवा क्षेत्र के लिए बनाए अनुसंधान एवं विकास नीति Corona Update: भारत में दम तोड़ रहा कोरोना, 24 घंटे में 100 से भी कम नए केस सड़क का खंबा नहीं होता तो अंधगति से आ रहे ट्रक थाना मोबाइल को ठोकता हुआ अंदर होता, cctv में दिखा कैसे... MP: मुरैना में बड़ा हादसा, वायुसेना का सुखोई-30 और मिराज हुए क्रैश सूरत के उधना इलाके में कार शोरूम में लगी भीषण आग रूठों को मनाने के लिए कांग्रेस चलाएगी घर वापसी अभियान ‘मूड ऑफ दि नेशन सर्वे’ में बजा CM योगी का डंका, 39.1 फीसदी लोगों ने माना बेस्ट परफॉर्मिंग चीफ मिनिस्...

टिकट आबंटन को लेकर भिड़े ‘आप’ वर्कर, राघव चड्ढा पर लगाए ये आरोप

जालंधर : जालंधर में आज शुक्रवार को कांग्रेस छोड़ आम आदमी पार्टी में दिनेश ढल्ल को शामिल करने आए ‘आप’ के सह प्रभारी राघव चड्ढा का जबरदस्त विरोध हुआ। टिकट न मिलने से नाराज चल रहे जालंधर वैस्ट विधानसभा हलके से डा. शिवदयाल माली, सैंट्रल विधानसभा हलके से डा. संजीव शर्मा और इकबाल सिंह ढींडसा के समर्थकों ने प्रैस क्लब के बाहर राघव चड्ढा को काले झंडे दिखाकर विरोध जताया और नारेबाजी की। इस बीच आम आदमी पार्टी के वर्करों में धक्कामुक्की और मारपीट तक की नौबत आ गई। यहां तक वर्करों ने एक-दूसरे पर ईंटें भी चलाईं। वर्करों ने आरोप लगाया कि जो लोग अभी अभी पार्टी में शामिल हुए हैं, उन लोगों को पार्टी की तरफ से टिकट दी जा रही है, जोकि बिल्कुल गलत है। उन्होंने राघव चड्ढा पर भष्टाचार के आरोप लगाए और कहा कि पैसे लेकर टिकटें बांटी जा रही हैं।

तीनों विधानसभा हलकों जालंधर वैस्ट, जालंधर नार्थ और जालंधर सैंट्रल विधानसभा हलकों से टिकट का दावा करने वाले डा. माली, इकबाल सिंह ढींडसा और जोगिंद्रपाल शर्मा ने आरोप लगाया है कि पार्टी ने पुराने वर्करों को दरकिनार करते हुए ये टिकटें बेची हैं। वहीं राघव चड्ढा ने प्रैस कांफ्रैंस के दौरान कहा कि आज नाराज चल रहे पार्टी वर्कर हमारे अपने हैं, इनके साथ बैठकर बात की जाएगी। टिकट नहीं मिलने के कारण थोड़ी बहुत नाराजगी होती है, जोकि दूर कर दी जाएगी।

इकबाल सिंह ढींडसा ने कहा है कि वह हर हाल में सैंट्रल विधानसभा हलके से विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। अब यह पार्टी को तय करना है कि किसे चुनाव लड़ाना है। वहीं डा. संजीव शर्मा का कहना है कि वह पार्टी वर्करों के साथ सलाह मशविरा करके अपनी राय देंगे। उल्लेखनीय है कि डा. शर्मा कोरोना पाजीटिव होने के कारण अपने घर पर आइसोलेट हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.