Logo
ब्रेकिंग
चीकू की खेती से होगी 5 लाख रुपये तक की कमाई केजरीवाल ने कांग्रेस को हराने के लिए शराब घोटाला किया : अजय माकन बीएमसी बजट 2023-24 - मुंबई के इन पांच जगहो पर लगेंगे एयर प्यूरीफायर ! उद्योग में तकनीकी उन्नयन के लिए एनर्जी बॉन्ड जारी करने पर विचार कर रहा पाकिस्तान मा0 अध्यक्ष जिला पंचायत ने महामाया राजकीय महाविद्यालय भिट्टी में ’’वार्षिक क्रीडा प्रतियोगिता’’ का क... भोपाल-इंदौर में लोकसभा चुनाव से पहले दौड़ेगी भोपाल मेट्रो  छावला गैंगरेप मामले में बरी हुआ शख्स और उसका दोस्त हत्या के आरोप में गिरफ्तार व्यक्ति को जमीन पर गिराकर मारने का VIDEO....दो दिन पूर्व का बताया जा रहा, शराब के नशे में था पीड़ित जल्द शुरू होने वाला है दीघा रेलवे स्टेशन, सेंट्रल रेलवे ने पूरी की तैयारी हिंदुओं के हाथ से अगरबत्ती छुड़ाकर मोमबत्ती थमाने के चल रहे प्रयास

शाहबाज शरीफ ने इमरान खान को ‘चोर’ बताया, इस्तीफा मांगा

नई दिल्ली। पाकिस्तान नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ ने प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई और प्रतिदिन अदालती सुनवाई की मांग की है। जियो न्यूज के अनुसार, विपक्ष के नेता ने कहा कि पाकिस्तान के संविधान और इसके कानूनों के मुताबिक कोई ‘चोर’ प्रधानमंत्री के पद पर नहीं रह सकता। इमरान खान कानून की नजर में ‘चोर’ और झूठा साबित हुए हैं। उन्हें हर हाल में त्यागपत्र दे देना चाहिए। शाहबाज ने यह टिप्पणी उस मीडिया रिपोर्ट के सामने आने के बाद की है, जिसमें कहा गया है कि निर्वाचन आयोग ने सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ द्वारा लाखों रुपये का फंड छिपाने का पता लगाया है।

पीएमएल-एन ने शुक्रवार को अपने अध्यक्ष शाहबाज शरीफ का बयान ट्विटर पर साझा किया। इसमें कहा गया है कि एक ऐसा व्यक्ति जो तथ्य छिपाता है, चोरी करता है और झूठ बोलता है, उसे संवैधानिक, सरकारी या राजनीतिक पार्टी में किसी पद पर नहीं होना चाहिए। दूसरी तरफ, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने दावा किया है कि उसने निर्वाचन आयोग से कुछ भी नहीं छिपाया है। शाहबाज शरीफ ने पूछा कि कानून यदि नवाज शरीफ जैसे लोकप्रिय नेता पर लागू होता है तो इमरान खान पर इसे क्यों नहीं लागू होना चाहिए

फजलुर रहमान का आरोप, चुनाव आयोग से छुपाई अपने 53 बैंक अकाउंट की जानकारी

जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम के प्रमुख फजलुर रहमान ने भी प्रधानमंत्री इमरान खान पर आरोप लगाया। रहमान ने कहा कि इमरान खान ने चुनाव आयोग से अपने 53 बैंक अकाउंट के बारे में नहीं बताया है। उन्होंने यह बात छिपाई है। विपक्षी नेता ने कहा कि पीटीआई चोरों की पार्टी है और यह एकमात्र ऐसी पार्टी थी जिसने राजनीति में अपशब्द बोलने की संस्कृति की शुरुआत की। जियो न्यूज ने बताया कि फजलुर रहमान ने देश के चुनाव आयोग द्वारा संयुक्त रूप से जारी एक रिपोर्ट के संबंध में यह बयान दिया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.