Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

पाकिस्तान में बर्फबारी का कहर, मरने वालों का आंकड़ा 23 पहुंचा

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में बर्फबारी ने इस बार सारे रिकार्ड तोड़ दिए हैं। भीषण बर्फबारी के चलते बीते दिन पाक के मुरी में गाड़ियां के फंसने से लगभग 19 पर्यटकों की मौत की खबर सामने आई थी, जिसका आंकड़ा अब 23 तक पहुंच गया है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के मुर्री में भारी बर्फबारी से मरने वालों की संख्या रविवार को बढ़कर 23 हो गई है, क्योंकि सुरक्षा बलों ने एक हजार से अधिक पर्यटकों को प्रभावित क्षेत्र से निकाल लिया है। इस्लामाबाद पुलिस द्वारा अब तक सैकड़ों पर्यटकों को सुरक्षित इलाकों में पहुंचाया गया है और बचाव अभियान पूरी गति से जारी है। एआरवाई न्यूज ने इस्लामाबाद के महानिरीक्षक मुहम्मद अहसान यूनुस के हवाले से यह जानकारी दी

1500 से अधिक पुलिस अधिकारी तैनात

इस्लामाबाद के महानिरीक्षक यूनुस ने मरी में फंसे नागरिकों के लिए चल रहे बचाव अभियान की प्रगति का निरीक्षण किया है और बचाव अभियान में भाग लेने के लिए 1500 से अधिक पुलिस अधिकारियों को तैनात किया है जो मुर्री से पर्यटकों की सुरक्षित वापसी तक जारी रहेगा। शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने इलाके में मरी आपदा की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री ने अस्पतालों, पुलिस थानों और बचाव सेवाओं में भी आपातकाल की स्थिति लागू करने का आदेश दे दिया था।

पाकिस्तानी सेना की पड़ गई थी जरूरत

बचाव अभियान में प्रशासन को सहायता के लिए पाकिस्तानी सेना को बुलाना पड़ा क्योंकि हिल स्टेशन पर लगभग 1,000 कारें फंसी हुई थीं। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, बुजदार ने बचाव कार्य में तेजी लाने और फंसे हुए पर्यटकों को सहायता प्रदान करने के निर्देश जारी किए थे। रावलपिंडी प्रशासन ने पंजाब के सीएम को रिपोर्ट पेश की थी। जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान के मौसम विभाग (पीएमडी) ने अभूतपूर्व बर्फबारी के बारे में जिला प्रशासन को सतर्क नहीं किया था। रिपोर्ट के अनुसार, मुर्री में पांच फीट बर्फबारी हुई और 6 जनवरी की रात को हिल स्टेशन की ओर जाने वाले रास्ते लोगों के लिए बंद कर दिए गए। एआरवाई न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार लोगों को क्षेत्र की यात्रा करने से बचने की सलाह दी गई थी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.