Logo
ब्रेकिंग

सीएम चन्नी ने प्रियंका गांधी को पीएम की सुरक्षा की जानकारी क्यों दी? संबित पात्रा बोले- जवाब दे गांधी परिवार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब में हुई सुरक्षा चूक को लेकर सियासत का माहौल अभी भी गर्माया हुआ है। वहीं, पीएम की सुरक्षा चूक को लेकर पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने अपने बयान में कहा कि पीएम मोदी को पंजाब में कोई खतरा नहीं था। वे यहां पूरी तरह से सुरक्षित थे। उन्होंने कहा कि मैंने इस संबंध में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से बात की है और इस पूरे मामले से उन्हें अवगत कराया है। अब चन्नी के इसी बयान पर बीजेपी ने सवाल खड़े कर दिए हैं। बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने पंजाब के सीएम पर पटलवार कर कहा कि आखिर एक मौजूदा सीएम ने प्रियंका गांधी वाड्रा को पीएम की सुरक्षा की जानकारी क्यों दी?

‘कौन होती है प्रियंका गांधी’ 
संबित पात्रा ने सवाल पूछते हुए कहा है कि सीएम ने ऐसा क्यों किया। प्रियंका के पास कौन सा संवैधानिक पद है? उन्हें पीएम सुरक्षा को लेकर लूप में क्यों लिया गया? पात्रा यहीं नहीं रुके उन्होंने कांग्रेस व गांधी परिवार को कठघरे में खड़ा करते हुए पूछा कि पीएम सिक्योरिटी की जानकारी रखने वालीं प्रियंका गांधी होती कौन हैं। उन्होंने सीएम चन्नी पर तंज कसते हुए कहा कि चन्नी साहिब थोड़ा ईमानदार हो जाइए। आपने प्रियंका गांधी को अवश्य यह बात कही होगी कि “काम हो गया सी…आपने जो बोला था,वो हो गया!” यानी आपने जो कहा वह काम हो गया।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि पंजाब सीएम के रिकॉर्ड से यह कंफर्म हो चुका है कि उन्होंने आखिर किस अधिकार के तहत प्रियंका गांधी को पीएम की सुरक्षा की जानकारी दी गई। सीएम ने किस नियम के तहत पीएम की सिक्योरिटी जैसे संवेदनशील मामले में प्रियंका गांधी को सूचनाएं दी। प्रियंका गांधी कौन हैं जिन्हें एक मुख्यमंत्री ने सूचित किया?  क्या प्रियंका गांधी किसी संवैधानिक पद पर हैं जो उन्हें जानकारी दी गई? क्या चीफ मिनिस्टर प्रियंका गांधी को यह रिपोर्ट कराने के लिए गए थे कि वह लक्ष्य से चूक गए।

पीएम के लिए करवा दूं महामृत्युंजय मंत्र का पाठ- चन्नी
इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इस मुद्दे पर बीजेपी पर तंज कसा है। एक नीजि चैनल में उन्होंने कहा कि, ‘मैं पीएम के लिए महामृत्युंजय मंत्र का पाठ करा देता हूं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई है। पंजाब को बदनाम करने वालों को पीछे मुड़ना पड़ा है।’

14 फरवरी को पंजाब में चुनाव
इसी के साथ ही कल चुनाव आयोग ने पंजाब में 14 फरवरी को चुनाव कराने का फैसला किया है। मतदान की गिनती 10 मार्च को कराई जाएगी। पंजाब में 117 सीटें हैं। 2017 के चुनाव में कांग्रेस ने 77 सीटें जीतीं थीं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.