मध्य प्रदेश में कोरोना को लेकर नया प्रतिबंध नहीं, अभी बंद नहीं होंगे स्‍कूल, सीएम शिवराज ने ली अ‍धिकारियों की बैठक

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश में कोरोना की स्थिति का जायजा लेने और इस पर नियंत्रयण के लिए किए जा रहे टीकाकरण के लिए समीक्षा बैठक ली। बैठक में तय किया गया कि अभी प्रदेश में कोई नया प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा। सरकार हालातों पर नजर रखे हुए है। बैठक में स्‍कूल शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार के आठवीं तक स्‍कूल बंद करने के मसले पर सीएम ने कहा कि अभी इसकी आवश्‍यकता नहीं है। सीएम ने कहा कि केस बढ़ रहे हैं जरूरत हुई तो कड़े कदम उठाएंगे। उन्‍होंने कहा कि अनावश्‍यक कड़े प्रतिबंध से बचा जाना चाहिये, केस बढ़ रहे हैं पर हालात अभी इतने चिंताजनक नहीं हैं।

इस बैठक में मध्य प्रदेश के सभी जिलों से अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े। इससे पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सिविल डिस्पेंसी प्रोफेसर कालोनी में टीकाकरण केंद्र का अवलोकन किया। जहां आज से प्रिकाशन डोज लगाई जा रही हैं। सीएम ने कहा कि अभी नाइट कर्फ्यू जारी है। स्कूलों को 50% उपस्थिति के साथ संचालित करने के निर्देश हैं। आज हम फिर से ही स्थिति की समीक्षा कर निर्णय लेंगे। मेरी आप सभी से अपील है कि कोरोना से बचाव के लिए निर्धारित दिशा-निर्देशों का अवश्य पालन करें। 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बेटे-बेटियों से मेरी अपील है कि जिन्होंने कोरोना से बचाव के डोज नहीं लगाए हैं, वह भी जल्द ही टीकाकरण करा लें। 60 वर्ष से ऊपर के बुजुर्गजनों को अब जो टीका लगना है वह भी आएं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में