Logo
ब्रेकिंग
आयुष्मान खुराना का नाम मुंबई की बजाय पंजाब टीम में है शामिल फैजल खान ने डांस-एक्टिंग से बदली घरवालों की किस्मत अब रॉकी भाई 'रावण' के किरदार में नजर आएंगे, फिल्ममेकर ने अगली मूवी के लिए किया अप्रोच भूकंप से कांप गई पाकिस्तान की धरती  शिवराज ने कांग्रेस का वचन पत्र दिखाकर पूछा सवाल मप्र में बनाए जाएंगे 15 गोवंश वन्य विहार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान- अब 7 लाख तक की इनकम वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स मुआवजा लेकर भाजपा कार्यालय के 44 दुकानदारों ने खाली की दुकानें उज्जैन में खेलो इंडिया यूथ गेम्स में योग प्रतियोगिता शुरू अमृतकाल के दौरान प्रौद्योगिकी-चालित और ज्ञान-आधारित तंत्र के माध्यम से सुधारों पर बहु-क्षेत्रीय ध्या...

सज्जन वर्मा बोले- हमारे हाथ गंगाजल से नहीं धुले, पाप हो जाते हैं…पंजाब में CM चेहरे को लेकर कही बड़ी बात

इंदौर: प्रदेश के पूर्व मंत्री और कांग्रेस के नेता सज्जन सिंह वर्मा ने बीजेपी पर एक बार फिर निशाना साधा है। वहीं महिला कांग्रेस द्वारा जूते पहनकर हनुमान चालीसा करने को लेकर भी बड़ा बयान दिया है। सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के विधायक सपा में शामिल हो रहे हैं। यह भाजपा के लिए चिंता का विषय है कि 9 विधायक और तीन मंत्री अभी तक निराश हो चुके हैं। वर्मा ने कहा कि केशव प्रसाद मौर्य ने दावा किया है कि अभी तो और 15 विधायक सपा में शामिल होंगे। वही कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर पलटवार करते हुए सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि बंगाल में क्यों बीजेपी के नेता तृणमूल में शामिल हो रहे हैं। बीजेपी की नीतियां पूरी तरह से फेल हो गई है।

पंजाब में टिकट वितरण पर बोले…
पंजाब में टिकट वितरण को लेकर सज्जन सिंह वर्मा का कहना है कि जिस तरह का प्रदेश होता है उसके अनुरूप ही टिकट का वितरण किया जाता है। महिलाओं को लेकर जिस तरह से प्रियंका गांधी की सोच है उसके अनुसार पंजाब में भी टिकट बांटे जाएंगे। हालांकि पंजाब में सिद्धू और चन्नी के बीच चल रही खींचतान पर सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि सिद्धू ने बयान देकर स्पष्ट किया है कि टिकट वितरण और मुख्यमंत्री के चेहरे का निर्माण करता है और जो हाईकमान करेगा। सिद्धू ने उसे मानने की बात कही है।

महिला कांग्रेस द्वारा जूते पहनकर हनुमान चालीसा करने पर बोले…
मीडिया से बातचीत करते हुए सज्जन सिंह वर्मा यहां तक कह गए कि हमारे हाथ गंगाजल से धुले नहीं होते कई बार हमारे हाथों से कई पाप कर्म भी हो जाते हैं। हमारे भगवान राम के मंदिर का भूमि पूजन का कार्यक्रम नरेंद्र मोदी के हाथों से कराया गया जबकि यह भूमि पूजन शंकराचार्य के हाथों से होना चाहिए था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.