Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

UP Chunav 2022: ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपेन की पोस्टर गर्ल प्रियंका मौर्या बीजेपी में होंगी शामिल, कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं के दलबदल का सिलसिला भी जारी है। बुधवार सुबह समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका देने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने शाम को कांग्रेस खेमें में खलबली मचाने की तैयारी कर ली है। कांग्रेस के ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपन की पोस्टर गर्ल और महिला कांग्रेस के मध्य जोन की उपाध्यक्ष डॉ प्रियंका मौर्या आज भाजपा में शामिल होने जा रही हैं। वह कुछ ही देर में लखनऊ स्थित बीजेपी दफ्तर पहुंच रही हैं। उन्होंने टिकट वितरण में कांग्रेस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं। यूपी में कांग्रेस के ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ अभियान की पोस्टर गर्ल प्रियंका मौर्या के भाजपा में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से वह नाराज हैं। प्रियंका ने कहा कि ‘उन्होंने (कांग्रेस) मेरे चेहरे, मेरे नाम और मेरे 10 लाख सोशल मीडिया फॉलोअर्स का इस्तेमाल प्रचार के लिए किया। लेकिन जब चुनाव के लिए टिकट देने की बारी आई, तो किसी और को दे दिया गया। यह अन्याय है। उन्होंने कहा कि मुझे टिकट नहीं मिला क्योंकि मैं एक ओबीसी की लड़की हूं और प्रियंका गांधी वाड्रा के सचिव संदीप सिंह को रिश्वत नहीं दे सकती थी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपेन पोस्टर के कतार में सबसे आगे खड़ी दिखने वाली प्रियंका मौर्य लखनऊ की सरोजनी नगर सीट से चुनाव की तैयारी कर रही थीं, लेकिन जारी लिस्ट में इस सीट से रुद्र दमन सिंह का नाम था। इसके बाद प्रियंका मौर्या ने ट्वीट कर आरोप लगाया, ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं पर टिकट नहीं पा सकी क्योंकि ओबीसी थी और घूस नहीं दे सकी।’

प्रियंका मौर्या आगे कहती हैं कि टिकट के नाम पर घूस की रकम किसी और ने नहीं बल्कि प्रियंका गांधी वाड्रा के सचिव संदीप सिंह ने मांगी थी। सूची जारी होने के कुछ घंटे बाद ही  प्रियंका मौर्या ने अपने ट्वीट में लिखा कि प्रियंका गांधी वाड्रा के सचिव संदीप सिंह ने उनसे टिकट के एवज में रुपये के लिए किसी से फोन करवाया था। रुपये न देने पर उनकी जगह किसी और के नाम की घोषणा कर दी। उनका दावा है कि हर आरोप का उनके पास पुख्ता सुबूत है, जिसे समय आने पर दिखाएंगी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.