Logo

जानिए कौन हैं मिर्ची बाबा, दिग्विजय सिंह को लोकसभा चुनाव जिताने के लिए किया था यज्ञ, कमल नाथ भी जा चुके इनके घर

भोपाल! वैराग्यानंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा) एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। उन्‍होंने गो-शालाओं में घास न पहुंचने और गोहत्या के विरोध में आज मुख्यमंत्री आवास तक पैदल पहुंच कर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठने की घोषणा की थी। पुलिस इनके भोपाल स्थित घर पहुंच गई और वे वहीं अनशन पर बैठ गए। मिर्ची बाबा की प्रदेश कांग्रेस के नेताओं से नजदीकियां जगजाहिर हैं।

बता दें कि मिर्ची बाबा वर्ष 2019 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने कांग्रेस के उम्मीदवार दिग्विजय सिंह की जीत सुनिश्चित करने के लिए पांच क्विंटल लाल मिर्ची का हवन किया था। मिर्ची बाबा ने तब यह भी ऐलान किया था कि यदि दिग्विजय सिंह को चुनाव नहीं जीते तो वह जल समाधि ले लेंगे। चुनाव परिणाम आने के बाद भाजपा की साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जब तीन लाख से भी ज्यादा मतों से विजयी हुईं तो मिर्ची बाबा की जल समाधि को लेकर सवाल उठे। पर उस वक्‍त वह गायब हो गए। बाद में उन्होंने अपने अधिवक्ता के माध्यम से जल समाधि लेने के लिए भोपाल कलेक्टर से अनुमति मांगी थी, जिसे अमान्य कर दिया गया।
कमल नाथ पहुंचे थे मिर्ची बाबा के घर
पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ भी मिर्ची बाबा के घर पहुंचे थे। दरअसल, मिर्ची बाबा ने कमल नाथ के स्वास्थ्य और सफलता के लिए विशेष पूजा करवाई थी। इस दौरान एक लाख पुष्पों से शिव पूजन और अभिषेक किया गया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.