राजनाथ सिंह ने पाक को दिलाई उसके हार की याद, कहा- 1971 के युद्ध में भारत की जीत विश्व इतिहास की सबसे बड़ी जीत

नई दिल्ली। साल 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत के उपलक्ष्य में राजधानी दिल्ली में ‘स्वर्णिम विजय पर्व’ कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। मंगलवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस कार्यक्रम को संबोधित करते पाकिस्तान को भारत के हाथों मिली उसकी हार याद दिलाई। रक्षा मंत्री ने कहा कि 1971 के युद्ध में भारत की जीत विश्व इतिहास की सबसे बड़ी जीत साबित हुई। इस युद्ध में पाकिस्तान ने अपनी सेना का एक तिहाई, नौसेना का आधा और वायु सेना का एक चौथाई हिस्सा खो दिया था। 93,000 पाक सैनिकों का आत्मसमर्पण विश्व इतिहास में एक ऐतिहासिक आत्मसमर्पण था।

रक्षामंत्री ने कहा कि आज वो भारत के प्रत्येक सैनिक की वीरता और बलिदान को नमन करते हैं, जिसके कारण भारत ने 1971 का युद्ध जीता था। पूरा देश उनके अमिट बलिदान के लिए हमेशा उनका ऋणी रहेगा। उन्होंने कहा कि आज हम बहुत खुश हैं कि पिछले 50 वर्षों में बांग्लादेश विकास के पथ पर आगे बढ़ा है।

पाकिस्तान की मिसाइलों का नाम क्रूर आक्रमणकारियों के नाम पर

वहीं, इसके पहले रविवार को कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा था कि पाकिस्तान की मिसाइलों का नाम क्रूर आक्रमणकारियों- गौरी, गजनवी और अब्दाली के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने भारत पर आक्रमण किया था। साथ ही उन्होंने कहा था कि दूसरी ओर, भारत ने अपनी मिसाइलों को ‘आकाश’, ‘पृथ्वी’ और ‘अग्नि’ नाम दिया है

1971 की यादें आज भी हर भारतीय के दिल में हैं ताजा

उद्घाटन के दौरान रक्षा मंत्री ने ‘स्वर्णिम विजय पर्व’ को एक त्योहार के रूप में मनाते हुए कहा कि यह 1971 के युद्ध में भारतीय सशस्त्र बलों की शानदार जीत की याद दिलाता है, जिसने दक्षिण एशिया के इतिहास और भूगोल को बदल दिया। उन्होंने कहा कि यह पर्व इस बात का प्रमाण है कि 1971 की यादें आज भी हर भारतीय के दिल में ताजा हैं। साथ ही, यह 1971 के युद्ध के दौरान हमारी सेना के जोश, जुनून और वीरता का प्रतीक है। यह हमें उसी उत्साह और जोश के साथ राष्ट्र की प्रगति के पथ पर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...