Logo
ब्रेकिंग
मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात बजट सत्र को लेकर सर्वदलीय बैठक जारी, कांग्रेस से कोई नहीं पहुंचा

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज को बनना पड़ा स्पिनर, जानिए क्यों जो रूट की टीम पर आई ऐसी मुसीबत

नई दिल्ली। अगर कोई तेज गेंदबाज 140 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हुए गति में मिश्रण करे और ओवर की सभी गेंदों को 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से फेंके तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं होगा, लेकिन वही गेंदबाज एक ओवर पहले तेज गेंदबाज हो और फिर अगले ओवर में आफ स्पिन करता नजर आए तो आप निश्चित रूप से चौंक जाएंगे। ऐसा ही कुछ एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में देखने को मिला

दरअसल, एडिलेड के ओवल में जारी पांच मैचों की एशेज सीरीज के दूसरे और डे-नाइट टेस्ट मैच के चौथे दिन इंग्लैंड की टीम के तेज गेंदबाज आली राबिन्सन ने शानदार तेज गेंदबाजी की और स्टीव स्मिथ जैसे बल्लेबाज का विकेट भी चटकाया। हालांकि, कुछ ही ओवरों के बाद वे तेज गेंदबाज से एक आफ स्पिनर बनते दिखे। ओली राबिन्सन ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में आफ स्पिन गेंदबाजी करते हुए सभी को चौंका दिया।

ओली राबिन्सन ने क्यों की स्पिन गेंदबाजी

दरअसल, इंग्लैंड की टीम डे-नाइट टेस्ट मैच में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरी। यहां तक कि टीम के पास कोई ऐसा आलराउंडर भी नहीं है, जो स्पिन गेंदबाजी करता हो। हालांकि, जो रूट ने काफी ओवर स्पिनर के तौर पर गेंदबाजी की, लेकिन वे चौथे दिन चोटिल थे और करीब डेढ़ घंटे तक मैदान के बाहर रहे। इस बीच ओवर गति को बढ़ाने के लिए ओली राबिन्सन को स्पिनर की भूमिका में आना पड़ा, जो कि लगातार तेज गेंदबाजी करते हैं।

इंग्लैंड के पास एशेज सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्राड और ओली राबिन्सन के रूप में प्रमुख तेज गेंदबाज थे, जबकि आलराउंडर के रूप में क्रिस वोक्स और बेन स्टोक्स हैं, जो तेज गेंदबाजी करते हैं। ऐसे में ओवर गति को बढ़ाने के कारण जो रूट ने काफी ओवर पहली पारी में किए। यहां तक कि पेनाल्टी से बचने के लिए इंग्लैंड की टीम को ओली राबिन्सन से भी आफ स्पिन गेंदबाजी करवाई। ये सब हुआ आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के 35वें ओवर में।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.