शीतलहर के साथ दिल्ली-एनसीआर में भीषण ठंड, IMD ने जारी किया यलो अलर्ट

नई दिल्ली/नोएडा/गुरुग्राम। पहाड़ी राज्यों में जारी बर्फबारी ने दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे उत्तर भारत के मौसम का मिजाज बदल दिया है। शुक्रवार सुबह से दिल्ली-एनसीआर में भीषण ठंड के चलते लोग परेशान नजर आए, इस कारण सुबह से ही जगह-जगह आग जलाने और हाथ सेंकने का नजाारा आम है। फिलहाल धूप निकली है, लेकिन शीतलहर के चलते राहत नहीं मिल रही है। उधर भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, दिल्ली में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 3.8 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया, जिससे दिल्ली में शीतलहर की स्थिति बन गई।

मौसम विभाग ने पूर्वानुमान जताया है कि अगले कुछ दिनों तक इसी तरह के हालात बने रहने की संभावना है। अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है और हल्का भी कोहरा रहेगा, जो ठंड के साथ वाहन चालकों को परेशान कर सकता है। दिल्ली के पालम और लोधी रोड के मौसम केंद्रों ने शुक्रवार को न्यूनतम तापमान क्रमश: 7 डिग्री सेल्सियस और 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। इसके साथ ही आइएमडी ने 3 जनवरी तक उत्तर पश्चिम भारत में शीत लहर से लेकर गंभीर शीत लहर की स्थिति की भविष्यवाणी की है। बताया जा रहा है कि पहाड़ों पर कई दिनों से हो रही बर्फबारी की वजह से मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ गई है। ऐसे में अगले सप्ताह ही ठंड से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है।

मौसम विभाग के मुताबिक, सर्द हवाओं के चलते अगले तीन दिनों के दौरान दिल्ली में सर्दी इसी तरह जारी रहेगी। इसके मद्देनजर मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसाआर में अगले दो दिनों के दौरान यलो अलर्ट जारी किया है। इसके साथ ही लोगों को बेवजह घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गई है।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार, दक्षिण-पूर्वी दिशा से चल रही हवा अब उत्तर-पश्चिम हो गई है, जिससे मैदानी इलाकों में बर्फीली हवाओं का दौर शुरू हो गया है। इस वजह से पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और मध्यप्रदेश के इलाकों में शीतलहर शुरू होगी।

बुधवार और बृहस्पतिवार को सुबह से शाम तक धूप निकलने से दिन में तो सर्दी से राहत मिल रही है, लेकिन सूरज अस्त होते ही सर्दी का प्रकोप बढ़ रहा है। पिछले तीन दिन से अधिकतम तापमान 17-18 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा है, लेकिन न्यूनतम तापमान लगातार गिर रहा है। मंगलवार को न्यूनतम तापमान नौ डिग्री था, जो बृहस्पतिवार को पांच डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। आगामी दिनों में गलन बढ़ने से तापमान में गिरावट देखने को मिलेगी। जिससे शीतलहर चलने की संभावना है। मौसम विज्ञानी के महेश पलावत के मुताबिक बृहस्पतिवार को गलन बढ़ी है। पश्चिमी विक्षोभ के चलते तापमान में बढ़त देखने को मिलेगी। पहाड़ों पर एक से तीन जनवरी तक बर्फबारी की उम्मीद है। चार से सात जनवरी तक भारी बर्फबारी के साथ उत्तर भारत के क्षेत्रों में बारिश का अनुमान है। जिसका असर शहर के तापमान पर पड़ेगा।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...