छत्तीसगढ़ में स्कूल छोड़ने वाले बच्चों के लिए 18 स्कूलों में नए साल में शुरू होगा कौशल प्रशिक्षण

रायपुर। प्रदेश में स्कूल छोड़ चुके बच्चों और युवाओं को रोजगारपरक शिक्षा से जोड़ने के लिए पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में राज्य के 18 स्कूलों में स्किल हब इनिशिएटिव कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है। यह कार्यक्रम नए साल से शुरू होगा। केंद्र सरकार के मानव संसाधन शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी कार्यक्रम के तहत राज्य के 18 स्कूलों में यह कार्यक्रम प्रथम चरण में शुरू होगा। कार्यक्रम के अंतर्गत स्कूल छोड़ चुके बच्चों के लिए व्यावसायिक शिक्षा प्रदान करने स्कूल समय के बाद और साप्ताहिक अवकाश के दिवसों में स्किल ट्रेनिंग के शार्ट टर्म सर्टिफिकेशन कोर्स को कराया जाएगा।

हर साल 50 हजार बच्चे छोड़ देते हैं स्कूल

एक आंकड़े के मुताबिक प्रदेश में हर साल 50 हजार बच्चे स्कूल छोड़ देते हैं। उनके लिए ही रोजगारपरक शिक्षा और कौशल उन्नायन के लिए शुरू की जा रही इस नई पहल के लिए स्कूल छोड़ चुके बच्चे और युवाओं को है, उन्हें विभिन्ना रोजगारमूलक कार्यों के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के लिए 15 से 29 वर्ष आयु समूह के लोगों का चयन किया जाएगा। इस संबंध में सभी जिला कलेक्टरों को कार्यक्रम की तैयारी के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हंै। बच्चों को विभिन्ना रोजगारपरक कार्यों में प्रशिक्षण के लिए चयनित स्कूलों में व्यवस्था की जाएगी।

विभिन्न विभागों का लेंगे सहयोग

इस कार्य में अंतर्विभागीय सहयोग भी लिया जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी और शिक्षा विभाग से जुड़े नामांकित अधिकारी प्रशिक्षण की मानिटरिंग करेंगे। स्कूल में पदस्थ व्यावसायिक प्रशिक्षक प्रशिक्षण तथा अन्य व्यवस्था करेंगे। प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षण लेने वाले प्रशिक्षणार्थियों को रोजगार से भी जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही स्किलिंग, री-स्किलिंग, अपस्किलिंग पाठ्यक्रमों के माध्यम से कौशल प्रमाण पत्र और अकादमिक क्रेडिट प्राप्त होगी। स्किल हब इनिशिएटिव से जुड़े स्कूल स्किल इंडिया पोर्टल में रजिस्टर होंगे। इस कार्यक्रम के पायलेट चरण में सीमित अवधि के प्रशिक्षण को संचालित किए जाएंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में