Logo
ब्रेकिंग
मुख्यमंत्री ने 'समाधान यात्रा' के क्रम में सुपौल जिले में विकास योजनाओं का लिया जायजा Budget 2023: बजट में बुजुर्गों के लिए बड़ा ऐलान, यह योजना बनेगी सीनियर सिटीजन्स का सहारा केन्द्रीय बजट में दूरदृष्टि का आभाव : सीएम यह बजट मोदी सरकार के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को और गति देगा: अमित शाह 12 घंटों के अंदर कई जिलों में हो सकती है तेज बारिश, ओले गिरने के भी आसार यूएन प्रमुख ने पाकिस्तान के पेशावर मस्जिद में आत्मघाती हमले की निंदा की आम बजट से है बहुत उम्मीदें मध्यम वर्ग को बड़ी सौगात, अब 7 लाख तक ले सकते हैं टैक्स छूट आयुष्मान खुराना का नाम मुंबई की बजाय पंजाब टीम में है शामिल फैजल खान ने डांस-एक्टिंग से बदली घरवालों की किस्मत

कोरोना प्रकोप: छत्तीसगढ़ जैन समाज में तीसरे साल भी सादगी से निपटाए जाएंगे विवाह

रायपुर। वैश्विक महामारी कोरोना तीसरे साल में प्रवेश कर रहा है। गत दो सालों में ज्यादातर विवाह समारोह में मेहमानों की संख्या सीमित रखी गई थी। परिवार के सदस्य ही शामिल हुए थे। अब कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लगातार तीसरे साल विवाह समारोह में शामिल होने वालों की संख्या कम रहेगी।

जैन समाज की संस्था जैन संवेदना ट्रस्ट ने समाज में जागरूकता अभियान छेड़ दिया है। प्रदेशभर में जैन समाज के लोगों से अपील की जा रही है कि अपने खास रिश्तेदारों को ही बुलाएं, ज्यादा लोगों को आमंत्रण न भेजें। यदि किसी का निमंत्रण न मिले तो नाराज न हो। साथ ही अन्य धार्मिक-सामाजिक समारोह भी सादगी से निपटाया जाए। दीक्षा महोत्सव जैसे बड़े आयोजन भी सादगी से निपटाएं।

जैन समाज की गाइड लाइन

जैन संवेदना ट्रस्ट के महेन्द्र कोचर एवं विजय चोपड़ा ने बताया कि अनेक संगठन प्रमुखों से चर्चा करके सामाजिक गाइडलाइन तय की गई है। इस गाइडलाइन का पालन कराने प्रमुख रूप से जैन संवेदना ट्रस्ट सहित छत्तीसगढ़ सकल जैन समाज और जैन समाज के वीरेन्द्र डागा, महावीर कोचर गुलाब दस्सानी पार्श्व भक्त मण्डल, गुरुदेव सेवा समिति, जैन महिला मण्डल, जिनकुशल संघ, शांतिनाथ मंदिर संघ द्वारा आह्वान किया जा रहा है।

सामाजिक गाइड लाइन

– सगाई-विवाह स्वजनों की उपस्थिति में संपन्न होंगे।

– धार्मिक-सामाजिक अन्य समारोह में भी सादगी

– अंत्येष्टि, शांति मिलन, उठावना में स्वजन शामिल हो शोक संवेदना संचार माध्यमों से दे

– जैन समाज ऐसा कोई भी आयोजन नही करें जिससे भीड़ जुटे

– पूर्व निर्धारित धार्मिक, सामाजिक कार्यक्रमों को रद्द करने की अपील

– देशभर में दीक्षा महोत्सव, उपधान-मोक्षमाला, नवाणु यात्रा जैसे कार्यक्रम जरूरी हो तो सादगी से करें।

– जन्म दिवस, सालगिरह घर तक सीमित रखें

कोविड सेवा की तैयारी

पिछले साल जैन समाज ने जैन आक्सीजन सिलिंडर, कान्संट्रेटर मशीन और अस्थायी कोविड सेंटर सेवा की थी। इन सेवाओं को इस साल पुन: शुरू करने की तैयारियां की जा रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.