Alert! Google Doc यूजर भूलकर भी इस लिंक्स पर ना करें क्लिक, वरना बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली

नई दिल्ली। अगर आप गूगल डॉक (Google Doc) का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए, क्योंकि एक रिसर्च रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि हैकर्स की तरफ से गूगल डॉक यूजर्स को मेल के जरिए खतरनाक लिंक्स को भेजा जा रहा है, जो कि हैकिंग के लिए जिम्मेदारी हो सकते हैं। ऐसे में आपके साथ बैंकिंग फ्रॉड जैसी घटनाएं घट सकती हैं। सिक्योरिटी फर्म Avanan की मानें, तो उसकी तरफ से Google को इस नवीनतम सिक्योरिटी ब्रीच के बारे में 3 जनवरी को जीमेल के “रिपोर्ट फिश” बटन के माध्यम से सूचित किया गया था।

मैलिशियल लिंक्स की हुई पहचान 

Zdnet की रिपोर्ट के मुताबिक सिक्योरिटी फर्म Avanan ने बताया कि एक खतरनाक लिंक्स की पहचान की गई है, जो पहले तक आउटलुक (Outlook) ईमेल यूजर्स को टारगेट करने के लिए इस्तेमाल की जाती थी। लेकिन ऐसी ही एक लिंक्स की दिसंबर 2021 में पहचान की गई है जो कि Google Doc पर मैलिशियस लिंक भेजने के लिए जिम्मेदार है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस तरह की खतरनाक लिंक्स कई तरह की समस्याएं पैदा कर सकती है। वैसे सिक्योरिटी टीम इस तरह के हमलों को रोकने की दिशा में काम कर रही हैं। गूगल इस तरह के सिक्योरिटी ब्रीज से अवगत है।

ई-मेल के जरिए गूगल डॉक पर किए जा रहे हमले

9to5Mac रिपोर्ट के मुताबिक गूगल की तरफ से पिछले साल अक्टूबर में अतिरिक्त सिक्योरिटी अपडेट को जारी किया गया था. जिससे फिशिंग हमलों से गूगल डॉक्स और गूगल शीट को बचाया जा सके। गगल ड्राइव पर पिछले कुछ वर्षों में कई साइबर हमले हुए हैं। लेकिन ई-मेल के जरिए साइबर फ्रॉड का मामला नया है।

कैसे करें बचाव

रिपोर्ट्स के मुताबिक फिशिंग हमलों से बचने के लिए मेल पर आने वाले किसी भी URL पर क्लिक करने से बचें।

किसी भी ई-मेल पर क्लिक करने से पहले उसके बारे में जांच पड़ताल कर लें।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...