बारिश और बर्फबारी ने उत्तर भारत में बढ़ाई सर्दी, अभी अगले दो से तीन दिनों तक राहत मिलने की नहीं है उम्मीद

नई दिल्ली। उत्तर भारत में मौसम का मिजाज बदल गया है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड हो रही बर्फबारी और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके निकटवर्ती राज्यों में पिछले दो दिनों से हो रही बारिश के चलते पूरा उत्तर भारत भीषण सर्दी की चपेट में है। जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है और फसलों को भी नुकसान पहुंचा है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार, 11 जनवरी तक मौसम ऐसा ही बना रह सकता है

दिल्ली और आसपास के इलाकों में शुक्रवार से ही जो हल्की बारिश शुरू हुई वह शनिवार को भी जारी रही। कई इलाकों में तेज बारिश भी हुई है। हफ्ते भर के भीतर दूसरी बार मौसम का मिजाज बदला है। दिन के समय भी लोगों को खासी ठिठुरन का एहसास हुआ। बारिश का ही असर रहा कि शुक्रवार को अधिकतम तापमान जहां सामान्य से एक डिग्री अधिक था वहीं शनिवार को यह गिरकर सामान्य से तीन डिग्री कम 16.4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। न्यूनतम तापमान सामान्य से आठ डिग्री अधिक 15.2 डिग्री सेल्सियस रहा। शनिवार शाम साढ़े पांच बजे तक 46.8 मिमी बारिश रिकार्ड की गई।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि रविवार को भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। सुबह घना कोहरा परेशान कर सकता है। हल्की बारिश होने के आसार हैं। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 18 और 12 डिग्री सेल्सियस रह सकता है।

मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को दिल्ली में हुई बारिश ने कई रिकार्ड तोड़ दिए हैं। सफदरजंग में 22 साल बाद जनवरी में इतनी बारिश दर्ज की गई है, वहीं पालम में 63 वर्ष के दौरान दूसरी सर्वाधिक बारिश रही। मालूम हो कि सफदरजंग में शाम साढ़े पांच बजे तक 46.8 मिमी जबकि पालम में 61.6 मिमी बारिश दर्ज की गई।

बर्फबारी से कश्मीर का देश से संपर्क कटा

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी हो रही है। इसके चलते कश्मीर का देश से हवाई व सड़क संपर्क कट गया है। जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर वाहनों की लगी लंबी कतारें लग गईं। श्रीनगर से सभी 40 उड़ानें रद कर दी गईं।

माता वैष्णो देवी के भवन पर पहला हिमपात

माता वैष्णो देवी के भवन पर मौसम का पहला हिमपात हुआ, मगर यात्रा जारी रही। कटड़ा में सबसे अधिक 95.2 मिमी और जम्मू में 83.5 मिमी बारिश हुई, जिससे तवी नदी उफन गई है। जम्मू-श्रीनगर हाईवे की हालत को देखते हुए इसे रविवार को भी बंद रखने का फैसला किया गया है।

केदारनाथ घाटी में बर्फ की मोटी परत जमी

उत्तराखंड में शनिवार को पहाड़ों पर भारी हिमपात हुआ। केदारनाथ में बर्फ की चार फीट मोटी परत जम गई है। सड़कों पर बर्फ जमा होने के कारण पहाड़ी जिलों में 50 से अधिक गांवों का संपर्क कट गया है। मैदानों में भी दिनभर बारिश होती रही

हिमाचल में हिमपात के साथ बरसात भी

हिमाचल प्रदेश में तीन दिन से जारी बारिश-हिमपात का दौर शनिवार को भी नहीं थमा। हिमपात के कारण हिमाचल के ऊपरी क्षेत्रों में जनजीवन पर खासा असर पड़ा है। राजधानी शिमला में इस सीजन की पहली बर्फबारी से पर्यटन स्थल गुलजार हो गए हैं। यह बारिश और बर्फबारी खेती और बागवानी के लिए संजीवनी बनी है।

मध्य प्रदेश में बारिश के साथ गिरे ओले

उत्तर भारत के साथ ही मध्य प्रदेश के कई जिलों में भी बारिश हो रही है। कई जिलों में तेज बरसात के साथ ओले भी गिरे हैं, जिससे फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में