यूपी विधानसभा चुनाव को ले बिहार में भी सजाए जा रहे मोहरे- लालू निभाएंगे मुलायम से रिश्तेदारी, JDU को BJP से आस

पटना। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव (Up Vidhan Sabha Chunav 2022) का असर बिहार में भी दिख रहा है। अब तारीखों की घोषणा के बाद सारे दलों की सक्रियता बढ़ गई है। तैयारी और दावेदारी का अंतिम चरण में प्रवेश हो गया है। मोहरे सजाए जाने लगे हैं। जनता दल यूनाइटेड (JDU) की आस भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर टिकी है। मुकेश सहनी (Mukesh Sahani) की विकासशील इंसान पार्टी (VIP) पहले से ही यूपी में कार्यालय खोलकर सक्रिय है। इसका असर बिहार में बीजेपी के साथ वीआइपी के गठबंधन की राजनीति पर भी पड़ रहा है। जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) भी सक्रिय हो गए हैं। मांझी और मुकेश सहनी की कई राउंड की बैठकें हो चुकी हैैं। चिराग पासवान (Chirag Paswan) भी बिहार से बाहर मौके की तलाश में जुटे हैैं। लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad yadav) रिश्तेदारी निभाने जा रहे हैं। उनके उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने बिना शर्त समाजवादी पार्टी (SP) को समर्थन देने की घोषणा कर दी है।

जेडीयू को बीजेपी से उम्मीद, बातचीत जारी

सबसे पहले बिहार में सत्तारूढ़ दो बड़े दल बीजेपी और जेडीयू की बात। दोनों में अभी कुछ भी साफ नहीं है। जेडीयू की उम्मीद भरी निगाहें लगी हुई हैं। केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह का दावा है कि बीजेपी से सकारात्मक बातचीत चल रही है। हालांकि, अब दोनों दलों के पास ज्यादा समय नहीं है।

मांझी का सहारा लेने की कोशिश में मुकेश

मुकेश सहनी अति सक्रियता दिखा रहे हैं। मल्लाहों की आबादी वाली 165 सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी में हैं। अति पिछड़ों को एकजुट करने के बहाने वे बीजेपी पर दबाव बनाने में जुटे हैं। कामयाब होते नहीं दिख रहे हैं। उल्टा असर ही हुआ है। इसी बीच बिहार में उनके कुल चार में से एक विधायक के असमय निधन के कारण बोचहां सीट खाली हो गई है, जिसे बीजेपी देने के मूड में नहीं है। बीजेपी सांसद अजय निषाद ने गठबंधन की परवाह किए बिना अपनों के लिए दावेदारी बढ़ा दी है। रिश्ता बेहद तल्ख हो चुका है। अंजाम की प्रतीक्षा है। बीजेपी से खटपट बढ़ता देख मुकेश सहनी ने जीतनराम मांझी का भी सहारा लेने का प्रयास किया है। प्रचारित किया जा रहा है कि दोनों मिलकर लड़ेंगे।

यूपी में प्रत्याशी देने की तैयारी में चिराग

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के दौरान बीजेपी व जेडीयू गठबंधन से असंबद्ध होकर चिराग पासवान ने यूपी की सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी की बात कर रहे हैं। खरमास के बाद प्रत्याशियों की सूची जारी करने का दावा कर रहे हैं। संभावना वाली सीटों की तलाश की जवाबदेही पार्टी की प्रदेश इकाई (यूपी) को दी गई है।

यूपी में समाजवादी पार्टी के साथ आरजेडी

आरजेडी ने समाजवादी पार्टी काे बिना शर्त समर्थन देने की घोषणा कर दी है। आरजेडी यूपी में अखिलेश यादव को मुख्‍यमंत्री बनते देखना चाहता है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...