मांझी ने बिहार विधान परिषद की सीटों पर किया दावा, कहा-हर हाल में इन जगहों से उतारेंगे उम्‍मीदवार

पटना। Bihar Politics: बिहार में होने वाले विधान परिषद एवं विधानसभा उपचुनावों को लेकर एनडीए और महागठबंधन में सीटों को लेकर घमासान मचा है। एक ओर राजद और कांग्रेस में जुबानी जंग छिड़ी हुई है तो इधर एनडीए के घटक दल में भी एक राय नहीं है। पूर्व सीएम और हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (HAM) की पार्टी ने इस बीच सीतामढ़ी और गया सीट पर दावा कर दिया है। कहा है कि हर हाल में दो सीटें हमें चाहिए।

हम के प्रवक्‍ता ने दो सीटों पर किया दावा 

वीडियो जारी कर हम के प्रवक्‍ता दानिश रिजवान ने कहा कि 24 सीटों पर होने वाले विधान परिषद चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है। लेकिन एनडीए में अभी तक कोई निर्णय नही हुआ है। यह चिंता का विषय है। हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा दो सीटों पर अपना उम्‍मीदवार उतारने को इच्‍छुक है। एनडीए  के शीर्ष नेतृत्‍व से अनुरोध है कि हमारी जायज मांग को देखते हुए हमें सीतामढ़ी और गया सीट सीट दी जाए। दोनों सीटों पर हमारी पार्टी उम्‍मीदवार उतारेगी। एनडीए नेतृत्‍व के सामने अपनी बातें रख दी हैं। किसी हाल में दो सीट लेकर अपना उम्‍मीदवार हम उतारेंगे।

उपेंद्र कुशवाहा दे चुके हैं फिफ्टी-फि‍फ्टी का फार्मूला

बता दें कि जदयू संसदीय दल के अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा पहले ही कह चुके हैं कि पुराना अनुपात फिफ्टी-फ‍िफ्टी का है। इस चुनाव को लेकर अंतिम रूप से बात होगी तब कुछ बता सकेंगे। जब तक नया कोई निर्णय नहीं हो, तब तक पहले का ही नियम लागू रहता है। नया निर्णय तो हुआ नहीं है। इससे बीजेपी का नुकसान होगा, कुशवाहा ने कहा कि नुकसान और फायदे की बात नहीं है, दोनों पार्टी बैठकर तय करेगी। मालूम हो कि यूपी विधानसभा चुनाव को  लेकर जदयू और भाजपा में अभी तक कुछ फाइनल नहीं हो सका है। ऐसे में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी हुई है। सभी को इंतजार है कि एनडीए के किस दल को कितनी सीटें मिलती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...