Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

विहिप के महामंत्री बोले- हर हिंदू 3-3 बच्चे पैदा करें नहीं तो भविष्य में अस्तित्व का संकट खड़ा हो जाएगा

खंडवा: विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे का बच्चे पैदा करने को लेकर एक बड़ी समझाइश दी है। उन्होंने हिंदुओं को 3 बच्चे पैदा करने की सलाह दी है। परांडे का कहना है कि हर हिंदू के घर 2 से 3 बच्चे होने चाहिए। अगर हमारी आबादी कम होगी तो भविष्य में अस्तित्व का संकट खड़ा हो जाएगा। हर हिंदू परिवार में 2 या इससे अधिक बच्चे होने चाहिए।

विहिप के केंद्रीय महामंत्री बुधवार को खंडवा पहुंचे थे जहां वे पुरानी अनाज मंडी जलेबी चौक में विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के तत्वावाधान युवा सम्मेलन में शामिल हुए। इसमें युवाओं को त्रिशूल दीक्षा भी दी गई। इस दौरान महामंत्री ने मंच से अपने संबोधन में कहा कि भारत देश की संस्कृति पर निरंतर दो हजार साल से आक्रमण होते रहे। इसके बाद भी आज भारत देश हिंदू बहुल है। यह हमारी आध्यात्मिक शक्ति, सहनशीलता और हमारे पूर्वजों के कठिन संघर्ष का ही परिणाम है।

ब्रिटिशों को पता था कि भारत में हिंदू समाज अपने इतिहास से शिक्षा लेता है और अपने पूर्वजों के इतिहास से सीखकर मजबूती प्राप्त करता, इसलिए उन्होंने हमारी शिक्षा पद्धति को धूमिल कर दिया गया। अंग्रेजों ने हमें ऐसा इतिहास परोसा, जिसे पढ़कर हमें अपने पूर्वजों की गुलामी महसूस होती रहे। आज भी हिंदू समाज को षड्यंत्र कर जातियों में बांटने का प्रयास किया जा रहा है। आदिवासी अंचलों में भील हिंदू नहीं हैं, गौंड हिंदू नहीं हैं, जैसे विचार प्रचारित किए जा रहे हैं। जबकि, गौंड राजाओं के शिलालेखों पर श्रीराम और श्री गणेशाय नमः के नाम का उल्लेख है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.