यूपी में लड़की लड़ सकती है लेकिन राजस्थान में नहीं, आखिर ऐसा क्यों? पात्रा ने प्रियंका गांधी को घेरा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राजस्थान के अलवर जिले में मानसिक रूप से निशक्त 15 वर्षीय किशोरी के कथित बलात्कार की घटना को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस और उसकी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा पर निशाना साधा और चयनात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया। पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा ‘‘ ऐसा क्यों है कि उत्तर प्रदेश में जाकर प्रियंका गांधी वाद्रा कहती हैं कि ‘‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं”। लेकिन राजस्थान में जहां कांग्रेस की सरकार है, वहां उनके सुर ‘‘लड़की हो तो लड़ना मना है और चुप रहना ही पड़ेगा” में बदल जाते हैं।”

 प्रियंका अपना जन्मदिन मनाने में व्यस्त
ज्ञात हो कि राजस्थान में मानसिक रूप से निशक्त किशोरी मंगलवार रात नौ बजे अलवर के तिजारा फाटक के पास सड़क पर घायल अवस्था में मिली थी। बुधवार को जयपुर के अस्पताल में उसकी शल्य चिकित्सा की गई। पीड़िता के निजी अंगों में गंभीर चोट के कारण सर्जरी में ढाई घंटे का समय लगा। पात्रा ने कहा कि जब वह किशोरी जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रही थी उस वक्त प्रियंका गांधी वाद्रा, जो खुद को ‘‘चैंपियन ऑफ महिला” कहती हैं, वह राजस्थान के ही रणथंभौर में अपने परिवार के साथ जन्मदिन मना रही थीं। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर भाजपा नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल कांग्रेस महासचिव से मिलने रणथंभौर भी गया था। पात्रा ने दावा कि यह कह कर भाजपा नेताओं को प्रियंका वाद्रा से नहीं मिलने दिया गया कि वह अपना जन्मदिन मनाने में व्यस्त हैं और किसी से मिल नहीं सकतीं।

कांग्रेस के नेता कब अलवर जाएंगे?
उन्होंने कहा, ‘‘यह कांग्रेस पार्टी की चयनात्मक राजनीति को दर्शाता है।” पात्रा ने कहा, ‘‘वास्तव में आप कांग्रेसी हैं और केवल राजनीति कर सकती हैं…महिलाओं के खिलाफ अत्याचार का इस्तेमाल करते हुए, उसको राजनीति की धुरी बनाकर गांधी परिवार अपनी महत्वाकांक्षा को साधने की कोशिश कर रहा है… राहुल गांधी और प्रियंका वाद्रा कर रहे हैं। यह अक्षम्य है।” उन्होंने सवाल किया कि बलात्कार पीड़ितों के साथ फोटो खिंचवा कर सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले, कांग्रेस के नेता कब अलवर जाएंगे?

गहलोत से क्या कोई रिपोर्ट तलब की है?
उन्होंने यह भी पूछा कि कांग्रेस महासचिव वाद्रा ने राजस्थान में हुए जघन्य अपराध पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से क्या कोई रिपोर्ट तलब की है? पात्रा ने राज्य की महिला और बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के उस बयान पर भी आपत्ति जताई जिसमें उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि महिलाओं व बच्चियों से दुष्कर्म करने वाले दरिंदे आसपास ही घूम रहे हैं, उनके माथे पर तिलक नहीं लगा होता है। उन्होंने इस बयान पर ममता भूपेश और मुख्यमंत्री गहलोत से माफी की भी मांग की। राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

गौरतलब है कि अलवर जिले के मालाखेड़ा थाना क्षेत्र में मंगलवार को घंटों लापता रहने के बाद मानसिक रूप से निशक्त, 15 साल की किशोरी रात करीब नौ बजे तिजारा फाटक के पास घायल अवस्था में मिली थी। पीड़िता के जननांगों सहित शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोटों को देखते हुए बुधवार को जयपुर के एक अस्पताल में उसकी सर्जरी की गई है। पुलिस ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह दुष्कर्म का मामला प्रतीत होता है। हालांकि, अब तक इस बारे में पुष्टि नहीं हो पाई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...