Logo
ब्रेकिंग
अर्चना गौतम और निमृत के बीच जमकर हुई नोक-झोंक व्हाट्सएप ने दिसंबर में भारत में 36 लाख से अधिक आपत्तिजनक अकाउंट्स पर लगाया प्रतिबंध मुख्यमंत्री ने 'समाधान यात्रा' के क्रम में सुपौल जिले में विकास योजनाओं का लिया जायजा Budget 2023: बजट में बुजुर्गों के लिए बड़ा ऐलान, यह योजना बनेगी सीनियर सिटीजन्स का सहारा केन्द्रीय बजट में दूरदृष्टि का आभाव : सीएम यह बजट मोदी सरकार के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को और गति देगा: अमित शाह 12 घंटों के अंदर कई जिलों में हो सकती है तेज बारिश, ओले गिरने के भी आसार यूएन प्रमुख ने पाकिस्तान के पेशावर मस्जिद में आत्मघाती हमले की निंदा की आम बजट से है बहुत उम्मीदें मध्यम वर्ग को बड़ी सौगात, अब 7 लाख तक ले सकते हैं टैक्स छूट

बीजेपी से निकाले गए मंत्री हरक सिंह को लेकर कांग्रेस नेता हरीश रावत का बड़ा बयान- कांग्रेस छोड़ने की गलती स्वीकार करें, तभी होगा स्वागत

देहरादून:  बीजेपी पार्टी से निकाले जाने के बाद पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत पर अब उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत ने बड़ा बयान दिया है। सोमवार को हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड के पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत अभी कांग्रेस पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं। कई कारणों पर विचार करने के बाद निर्णय लेगी पार्टी। साथ ही, हरीश रावत ने ये भी कहा कि यदि वह कांग्रेस पार्टी छोड़ने की अपनी गलती स्वीकार करेंगे, तो हम उनका स्वागत करेंगे।

बता दें कि बीजेपी की प्रदेश इकाई के मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश पार्टी अध्यक्ष मदन कौशिक के निर्देश पर हरक सिंह रावत को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया गया है। यही नहीं, कौशिक के हवाले से उन्होंने बताया कि अनुशासनहीनता के चलते रावत को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है।

 उन्होंने कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस बीच, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी रावत को मंत्रिपरिषद से बर्खास्त कर दिया है। आरोप है कि पौड़ी गढ़वाल जिले की कोटद्वार विधानसभा सीट से विधायक रावत अपनी सीट बदलने के साथ ही अपनी पुत्रवधू अनुकृति के लिए भी बीजेपी से टिकट मांग रहे थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.