Logo
ब्रेकिंग
आयुष्मान खुराना का नाम मुंबई की बजाय पंजाब टीम में है शामिल फैजल खान ने डांस-एक्टिंग से बदली घरवालों की किस्मत अब रॉकी भाई 'रावण' के किरदार में नजर आएंगे, फिल्ममेकर ने अगली मूवी के लिए किया अप्रोच भूकंप से कांप गई पाकिस्तान की धरती  शिवराज ने कांग्रेस का वचन पत्र दिखाकर पूछा सवाल मप्र में बनाए जाएंगे 15 गोवंश वन्य विहार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान- अब 7 लाख तक की इनकम वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स मुआवजा लेकर भाजपा कार्यालय के 44 दुकानदारों ने खाली की दुकानें उज्जैन में खेलो इंडिया यूथ गेम्स में योग प्रतियोगिता शुरू अमृतकाल के दौरान प्रौद्योगिकी-चालित और ज्ञान-आधारित तंत्र के माध्यम से सुधारों पर बहु-क्षेत्रीय ध्या...

मुकेश सहनी ने दिन में किया लालू-तेजस्‍वी का गुणगान, रात में मिलने पहुंचे राजद प्रवक्‍ता, कही ये बात

पटना। बिहार में सियासत की गर्मी और ठंड दोनों चरम पर है। एनडीए के घटक दल वीआइपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी ने गठबंधन तोड़ने की धमकी देकर सियासत को गरमा दिया है। एक दिन पहले उन्‍होंने नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव को छोटा भाई बताया था। सियासी इस घटनाक्रम के बीच राजद की ओर से नरमी के संकेत मिले हैं। इस बीच गुरुवार देर शाम राजद प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय तिवारी का मुकेश सहनी के सरकारी आवास पर पहुंचने के कई मायने निकाले जा रहे हैं। वहीं राजद के मुख्‍य प्रवक्‍ता भाई वीरेंद्र ने भी ऐसा बयान दे दिया है जो नए सियासी समीकरण की ओर इशारा कर रहा है। यूपी विधानसभा चुनाव की गर्मी भी बिहार में दिख रही है।

मुकेश सहनी के पास है बिहार सरकार की पतवार 

गुरुवार रात मुकेश सहनी से मिलने पहुंचे राजद प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय तिवारी ने कहा कि उनका आना किसी राजनीतिक मकसद से नहीं था। वे खेल-खिलाड़‍ियों के लिए लड़ते रहते हैं। इसी उद्देश्‍य से वैशाली के एक धावक अरुण सहनी की पीड़ा लेकर मुकेश सहनी के पास आए थे। उसके साथ न्‍याय नहीं हो रहा। मुकेश सहनी जिस समाज का प्र‍ति‍नि‍धित्‍व करते हैं, उसी समाज का वह खिलाड़ी है। हम यहां राजनी‍ति करने नहीं आए हैं। हालांकि मृत्‍युंजय तिवारी इस दौरान सरकार पर हमले से नहीं चूके। उन्‍होंने कहा कि बिहार में सरकार की नैया का पतवार मुकेश सहनी के पास है। पतवार गया तो सरकार डूब जाएगी। उन्‍होंने कहा कि एनडीए में खेल हो रहा है वह खेल तमाशा तो सब देख ही रहे हैं। लड़ रहा है सब आपस में। यह पूछने पर कि क्‍या नाव पर सवार होंगे, उन्‍होंने कहा कि तेजस्‍वी के नाव पर बिहार की 13 करोड़ जनता सवार है। उन्‍होंने कहा कि लालू जी और तेजस्‍वी जी न तय करेंगे। इधर मुख्‍य प्रवक्‍ता भाई वीरेंद्र ने कहा है कि मुकेश सहनी बीजेपी के बहकावे में आ गए थे। इस कारण भटक गए थे। लेकिन वे हमारे हैं। हमारे ही रहेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.