Logo
ब्रेकिंग
आयुष्मान खुराना का नाम मुंबई की बजाय पंजाब टीम में है शामिल फैजल खान ने डांस-एक्टिंग से बदली घरवालों की किस्मत अब रॉकी भाई 'रावण' के किरदार में नजर आएंगे, फिल्ममेकर ने अगली मूवी के लिए किया अप्रोच भूकंप से कांप गई पाकिस्तान की धरती  शिवराज ने कांग्रेस का वचन पत्र दिखाकर पूछा सवाल मप्र में बनाए जाएंगे 15 गोवंश वन्य विहार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान- अब 7 लाख तक की इनकम वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स मुआवजा लेकर भाजपा कार्यालय के 44 दुकानदारों ने खाली की दुकानें उज्जैन में खेलो इंडिया यूथ गेम्स में योग प्रतियोगिता शुरू अमृतकाल के दौरान प्रौद्योगिकी-चालित और ज्ञान-आधारित तंत्र के माध्यम से सुधारों पर बहु-क्षेत्रीय ध्या...

किसानों की अनदेखी पर कमलनाथ का शिवराज पर बड़ा हमला, अन्नदाता को मिला है सिर्फ झूठा आश्वासन

भोपाल: मध्यप्रदेश में किसान वर्ग बड़ा वोट बैंक है और दोनों ही पार्टियां इसे अभी से साधने में लगी है। क्योंकि अगले साल प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही अपने आपको किसान हितैषी पार्टियां साबित करने में जुटी हुई है। इस बीच पूर्व सीएम कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर किसानों की अनदेखी का आरोप लगाया है।

किसानों को मिले झूठे आश्वासन: कमलनाथ 

ओलावृष्टि और अति वर्षा से खराब हुई फसलों को दो सप्ताह से भी अधिक समय बीत चुका है। लेकिन अभी तक ना तो किसानों को कोई राहत दी गई है और ना ही मुआवजा मिला है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि किसानों को अभी तक सिर्फ झूठे आश्वासन और भाषण ही मिले हैं।

किसानों को फौरी दी जाए मदद

जिसकी वजह से राहत और मुआवजे के अभाव में मध्य प्रदेश का किसान आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो रहा हैं। कमलनाथ ने विदिशा के ग्राम गुसाईं के किसान रामचरण यादव का उदाहरण पेश करते हुए कहा कि फसल खराब होने और बढ़ते कर्ज के कारण आत्महत्या कर ली थी। इस तरह की घटनाएं प्रदेश में रोज सामने आ रही है। कमलनाथ ने सरकार से मांग की है कि किसानों को तत्काल राहत और मुआवजा देना चाहिए। ताकि ऐसी घटनाओं पर रोक लग सके।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.