BJP में शामिल होंगे हरभजन सिंह? जानिए क्रिकेटर ने दिया क्या जवाब

पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और उससे पहले राज्य में सभी राजनीतिक पार्टियों ने कमर कस ली। कांग्रेस, भाजपा, अकाली और आम आदमी पार्टी सभी पंजाब में अपनी-अपनी जमीन तैयार करने में जुटे हुए हैं। इसी बीच अफवाहों का दौर भी जारी है। जहां इन दिनों पंजाबी सिंगर कांग्रेस का हाथ थाम रहे हैं वहीं खबर है कि भारतीय टीम के क्रिकेटर हरभजन सिंह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। हालांकि भज्जी ने इन खबरों को ‘फेक न्यूज’ बताया।

PunjabKesari

एक मीडिया आउटलेट ने सूत्रों के हवाले से दावा किया था कि पंजाब चुनाव से पहले हरभजन सिंह और युवराज सिंह भाजपा का दामन थाम सकते हैं। भज्जी ने तो इस खबर को फेक बता दिया लेकिन युवराज ने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है। बताया जा रहा है कि भज्जी अगले हफ्ते क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले सकते हैं, जिसके बाद यह खबर वायरल हो गई कि वह राजनीति में एंट्री कर सकते हैं और अपने इस सफर की शुरुआत वे भाजपा से करेंगे।

बता दें कि तीन साल पहले एक इंटरव्यू में भज्जी ने कहा था कि अगर उन्हें कोई पार्टी ऑफर करती है तो वह राजनीति में जरूर आएंगे क्योंकि वो पंजाब के लोगों के लिए कुछ करना चाहते हैं। वैसा ऐसा पहली बार नहीं है जब भज्जी के राजनीति में आने की अफवाह फैली हो। 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले उनके कांग्रेस में जाने की खबरें सामने आई थीं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...