शिक्षक के पिता की गोली मारकर हत्या, पुलिस से लगाई थी सुरक्षा की गुहार

मोतिहारी: पूर्वी चंपारण जिला पुलिस के कार्यशैली पर अब सवाल उठने लगे हैं. जिला के कल्याणपुर थाना क्षेत्र स्थित बखरी पंचायत के गोविंदा पुर गांव के रहने वाले एक शिक्षक ने पुलिस से जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी. लेकिन पुलिस ने शिक्षक के गुहार को अनसुना कर दिया और इसी बीच दबंगों ने शिक्षक के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी. घटना की सूचना मिलते ही चकिया डीएसपी संजय कुमार के साथ तीन थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस घटना की जांच में जुट गई है. घटना के बाद मृतक के शव को कब्जा में लेने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी.शिक्षक अरुण यादव के पिता राम जीवन राय के सिर में गोली मारी गई, जिससे उनकी मौत हो गई. राम जीवन राय की हत्या के बाद कानूनी कार्रवाई करने के लिए पुलिस शिक्षक के घर पहुंची, जहां स्थानीय लोगों का आक्रोश का सामना करना पड़ा.मृतक राम जीवन राय के शिक्षक पुत्र अरुण यादव ने बताया कि पंचायत के पैक्स अध्यक्ष चेन्नई यादव से कोर्ट में एक मुकदमा चलता है. मुकदमा को उठा लेने के लिए विगत 13 जनवरी को हरवे हथियार से लैश होकर वे लोग आए और दरवाजे पर मुकदमा को उठाने के लिए धमकी देने लगे. साथ ही धमकी भरा एक पर्ची भी दरवाजे पर फेंका दिया.पर्ची लेकर शिक्षक अरुण यादव थाना पहुंचे और उन्होंने जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाते हुए थाना में आवेदन दिया था, लेकिन पुलिस ने शिक्षक के गुहार पर ध्यान नहीं दिया और शिक्षक के पिता की सोए अवस्था में गोली मारकर हत्या कर दी गई.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में