रिश्वत लेने के आरोप में कैमूर के पूर्व राजस्व कर्मचारी को 3 साल की सजा, 5 हजार रुपए जुर्माना

पटनाः पटना शहर स्थित निगरानी की एक विशेष अदालत ने 2011 के रिश्वत लेने के एक मामले में कैमूर जिला के भभुआ अंचल के तत्कालीन राजस्व कर्मचारी अजीत कुमार सिंह को बुधवार को तीन वर्ष का सश्रम कारावास तथा पांच हजार रुपए अर्थदण्ड की सजा सुनाई।

निगरानी की विशेष अदालत के न्यायधीश मनीष द्विवेदी ने 2011 के निगरानी थाना कांड संख्या 46 तथा विशेष वाद संख्या 37 में अजीत को दोषी पाते हुए भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की संगत धाराओं के तहत बुधवार को तीन वर्ष का सश्रम कारावास तथा पांच हजार रुपए अर्थदण्ड की सजा सुनाई। बिहार राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने अजीत को 2011 में एक व्यक्ति से रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

ब्रेकिंग
जहानाबाद दोहरे हत्याकांड में सात आरोपियों को सश्रम आजीवन कारावास डोनियर ग्रुप ने लॉन्च किया ‘नियो स्ट्रेच # फ़्रीडम टू मूव’: एक ग्रैंड म्यूज़िकल जिसमें दिखेंगे टाइगर श... छात्र-छात्राओं में विज्ञान के प्रति रुचि जागृत करने हेतु मनी राष्ट्रीय विज्ञान दिवस राबड़ी, मीसा, हेमा यादव के खिलाफ ईडी के पास पुख्ता सबूत, कोई बच नहीं सकता “समान नागरिक संहिता” उत्तराखंड में लागू - अब देश में लागू होने की बारी नगरनौसा हाई स्कूल के मैदान में प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का हुआ आयोजन पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों को दिलाया पांच‌ प्रण बिहार में समावेशी शिक्षा के तहत दिव्यांग बच्चों को नहीं मिल रहा लाभ : राधिका जिला पदाधिकारी ने रोटी बनाने की मशीन एवं अन्य सामग्री उपलब्ध कराया कटिहार में आरपीएफ ने सुरक्षा सम्मेलन किया आयोजित -आरपीएफ अपराध नियंत्रण में जागरूक करने के प्रयास सफ...