Logo
ब्रेकिंग
आयुष्मान खुराना का नाम मुंबई की बजाय पंजाब टीम में है शामिल फैजल खान ने डांस-एक्टिंग से बदली घरवालों की किस्मत अब रॉकी भाई 'रावण' के किरदार में नजर आएंगे, फिल्ममेकर ने अगली मूवी के लिए किया अप्रोच भूकंप से कांप गई पाकिस्तान की धरती  शिवराज ने कांग्रेस का वचन पत्र दिखाकर पूछा सवाल मप्र में बनाए जाएंगे 15 गोवंश वन्य विहार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान- अब 7 लाख तक की इनकम वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स मुआवजा लेकर भाजपा कार्यालय के 44 दुकानदारों ने खाली की दुकानें उज्जैन में खेलो इंडिया यूथ गेम्स में योग प्रतियोगिता शुरू अमृतकाल के दौरान प्रौद्योगिकी-चालित और ज्ञान-आधारित तंत्र के माध्यम से सुधारों पर बहु-क्षेत्रीय ध्या...

बिहार में कोरोनावायरस के आफ्टरइफेक्‍ट में बढ़े ब्लैक फंगस के मरीज, अस्पतालों को दी गई दवा

पटना। बिहार में यह कोरोनावायरस संक्रमण का आफ्टर इफेक्‍ट (CoronaVirus Infection After-effect) है। कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर (Second Wave of CoronaVirus Infection) के बीच ब्लैक फंगस संक्रमण (Black Fungus Infection) के भी काफी मामले सामने आए थे। इनमें से कुछ मरीज अब भी अस्पतालों में इलाजरत हैं। ब्लैक फंगस मरीजों को इलाज के दौरान पोसाकोनाजोल (Posaconazole) दवा दी जाती हैं। दवा का आवंटन केंद्र सरकार करती है। राहत की बात यह है कि केंद्र सरकार से आवंटन मिलने के बाद राज्य के कुछ प्रमुख अस्पतालों को इस दवा का आवंटन मंजूर किया जा चुका है।

अस्‍पतालों को आंवंटित की गई ब्‍लैक फंगस की दवा

राज्य स्वास्थ्य समिति (State Health Society, Bihar) ने पोसाकोनाजोल दवा के आवंटन को लेकर पत्र जारी किया है। इसमें बताया गया है कि कई अस्पतालों में अब भी ब्लैक फंगस के मरीज इलाजरत हैं। उनके इलाज के लिए पटना के पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS, Patna) को 1100, पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS, Patna) को 870, पटना मेडिकल कालेज एवं अस्पताल (PMCH, Patna) को 350 तथा भागलपुर के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज अस्पताल (JLNMCH, Bhagalpur) को दो सौ टैबलेट दिए जा रहे हैं। एम्स पटना को 150 टैबलेट का आवंटन जल्द ही दिया जा सकेगा। आवंटन के बाद टीका औषधि केंद्र में 100 टैबलेट का स्टाक बचेगा, जिसे मांग के आधार पर अन्य अस्पतालों को आवंटित किया जाएगा।

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मिले थे मामले

विदित हो कि कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अचानक ब्लैक फंगस संक्रमण (Black Fungus Infection) के काफी मामले सामने आए। इस संक्रमण के लिए कोरोनावायरस संक्रमण के इलाज के दौरान कुछ दवाओं के दुरुपयोग (Misuse of Medicines) को जिम्‍मेदार माना गया। हालांकि, संक्रमण के कई और कारण भी सामने आए। उस दौरान मिले कई मरीज अभी तक इलाज करा रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.