गया के सोनम धान की आंध्रप्रदेश में भारी डिमांड, अमेरिका, अफ्रीका व थाइलैंड के लोग भी कर रहे पसंद

मानपुर(गया)।  जिले के किसानों द्वारा उपजाया गया सोनम धान की मांग आंध्रप्रदेश में काफी है। उनके मांग पुरा करने में आंध्रप्रदेश की कंपनी और गया के व्यवसायी जुटे हैं। मानपुर के ईश्वर चौधरी हॉल्ट के समीप लेलवे का रैक लगाया जाता। किसान एवं देहाती इलाका के व्यवसायी ट्रक एवं पिकअप बैन से सोनम धान लेकर पहुंचते। जहां नगद राशि भुगतान कर धान की खरीदारी की जाती। उक्त धान को रेलमार्ग से आंध्रप्रदेश भेजा जाता है। इस कारोबार को करने वाले व्यवसायों ने बताया कि 30 दिन में 14 हजार टन सोनम धान आंद्रप्रदेश भेजा गया है। यहां 1,970 रूपए क्विंटल सोनम धान खरीदा जा रहा है।

गया की सोनम धान से तैयार चावल की मांग विदेशों में 
गया की सोनम धान खरीदने वाली आंध्रप्रदेश की कंपनी के अधिकारी आदित्य कृष्णा मंगलवार को मानपुर पहुंचे। उनके साथ और भी कई लोग थे। उन्होंने गया कि सोनम धान की गुणवता की जांच कर काफी प्रसन्न हुए। इतना बेहतर धान उपजाने वाले किसानों को धन्यबाद देते हुए काफी प्रशंसा किया। उन्होंने कहा कि गया की सोनम धान से तैयार चावल की मांग विदेशों में होने लगी है। गया के किसानों द्वारा उपजाया गया सोनम धान आंध्रप्रदेश ले जाया जाता। जहां चावल तैयार कर देश के विभिन्न राज्यों में बिक्री की जाती है। लेकिन गया की सोनम धान से बने चावल की गुणवता विदेश के लोग भी जानना शुरू कर दिए हैं। उसके बाद अमेरिका, अफ्रीका , थाइलैंड आदि जगहों पर गया की सोनम धान से बने चावल की मांग  होने लगी है।
किसानों को बढ़ेगें हौंसलें 
सोनम धान से बने चावल की बिक्री विदेशों में होने से किसानों को अच्छे मूल्य मिलेगी। जिससे उनके हौसले बुलंद होगें। उसके बाद किसान सोनम धान की उपज वृहत पैमाने पर कराना शुरू कर देगें। जिससे किसानों की अच्छी आमदनी हेागी।
Leave A Reply

Your email address will not be published.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में