Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

कंपकंपाती ठंड में पूर्व जिलापार्षद ने किया अलाव की व्यवस्था

कटिहार:- कड़ाके की ठंड तथा पछुआ हवा चलने से कटिहार जिला में आम जनजीवन अस्त- व्यस्त हो गया है। शीतलहर के कारण हार कंपाने कनकनी बढ गई है। कड़ाके की ठंड के कारण लोगो के समक्ष मुसीबते बढ़ गई है।
कड़ाके की ठंड को देखते हुए लोगों की राहत के लिए पूर्व जिला परिषद सह राजद किसान प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष गोपाल प्रसाद यादव द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलाने की व्यवस्था शुरू की गई है।

कुर्सेला बस स्टैंड,सब्जी मंडी, रेलवे स्टेशन, स्वास्थ्य केंद्र, शहीद चौक, नेता जी चौक सहित स्थानों पर अलाव जलाया गया है।

पूर्व जिला पार्षद गोपाल यादव ने कहा कि प्रखंड क्षेत्र में लगातार हाड़ कंपाने वाली ठंड व पछिया हवा से शुरू हुई जानलेवा कनकनी के मद्देनजर प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत स्थानीय रेलवे स्टेशन, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, कुरसेला चौक शहीद चौक, नेताजी चौक सहित कई अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर लकड़ी का इंतजाम कर अलाव की व्यवस्था की गई है। बता दें कि लगातार जारी ठंड चार दिनों से अचानक तापमान में आई गिरावट के कारण जानलेवा बन गई है। इस कारण गरीब व कमजोर तबके के लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। प्रशासनिक स्तर पर किसी भी चौराहे पर अलाव की व्यवस्था नहीं की गई थी।प्रखंड मुख्यालय अंतर्गत किसी चौक-चौराहे पर प्रशासन की ओर से अलाव की व्यवस्था नहीं की गई है। कड़ाके की ठंड के साथ चल रही पछिया हवा स्थानीय लोगों और राहगीरों को कंपकपा रही है। पारा लगातार नीचे की ओर लुढ़क रहा है। ऐसे में प्रशासन की ओर से क्षेत्र में एक भी जगह अलाव की व्यवस्था नहीं होने से लोगों में निराशा है। जबकि रेलवे स्टेशन कुर्सेला चौक, बस स्टैंड, बाजार, सहित अन्य जगहों पर रोजाना सैकड़ों लोग आते जाते व ठहरते हैं। दूरदराज ग्रामीण इलाकों से बुजुर्ग महिला प्रखंड सहित बाजार कार्य के लिए मुख्यालय पहुंचते हैं। लेकिन, कपकपाती ठंढ में उन्हें अलाव की सुविधा नहीं मिल पा रही है। प्रशासन के इस रवैये से आसपास के लोगों में मायूसी के साथ साथ नाराजगी भी देखने को मिल रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.