Logo
ब्रेकिंग
अमित शाह कल करेंगे चुनावी राज्य कर्नाटक का दौरा अपनी छोड़ सारे जहां की चिंता कर भोपाल के विद्यार्थी ने जीता पीएम मोदी का मन दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस, वायु गुणवत्ता ‘खराब' श्रेणी में बजट से पूर्व भारत को US फार्मा उद्योग की सलाह- दवा क्षेत्र के लिए बनाए अनुसंधान एवं विकास नीति Corona Update: भारत में दम तोड़ रहा कोरोना, 24 घंटे में 100 से भी कम नए केस सड़क का खंबा नहीं होता तो अंधगति से आ रहे ट्रक थाना मोबाइल को ठोकता हुआ अंदर होता, cctv में दिखा कैसे... MP: मुरैना में बड़ा हादसा, वायुसेना का सुखोई-30 और मिराज हुए क्रैश सूरत के उधना इलाके में कार शोरूम में लगी भीषण आग रूठों को मनाने के लिए कांग्रेस चलाएगी घर वापसी अभियान ‘मूड ऑफ दि नेशन सर्वे’ में बजा CM योगी का डंका, 39.1 फीसदी लोगों ने माना बेस्ट परफॉर्मिंग चीफ मिनिस्...

देश में ओमिक्रोन वैरिएंट के मामले हुए 200, केंद्र ने दी जानकारी, जानें किस राज्‍य में कितने मामले

नई दिल्ली। देश और दुनिया में ओमिक्रोन का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। भारत में इसके मामले लगातार सामने आ रहे हैं। केंद्र सरकार की दी जानकारी के मुताबिक देश में अब तक ओमिक्रोन के 200 मामले सामने आ चुके हैं। सोमवार को जब इसकी जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने राज्‍य सभा में दी थी तब तक देश में 161 मामले सामने आए थे।

सोमवार को सामने आए 18 मामले 

सोमवार को देश में ओमिक्रोन के 18 नए मामले सामने आए हैं। इनमें दिल्ली में छह, कर्नाटक में पांच, केरल में चार और गुजरात में तीन मामले शामिल हैं। एएनआई ने केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की दी गई जानकारी के आधार पर बताया है‍ कि अब तक महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली में 54-54, तेलंगाना में 20, कर्नाटक में 19,  राजस्‍थान में 18, केरल में 15, गुजरात में 14, उत्‍तर प्रदेश में दो, आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में एक-एक मामला सामने आया है। अब तक करीब 77 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्‍चार्ज किया गया है।

jagran

सरकार की पूरी निगाह

देश की राजधानी दिल्ली के अलावा गुजरात, केरल और कर्नाटक में देर रात ओमिक्रोन के मामले आने से इस संख्‍या में इजाफा हुआ है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का कहना है कि सरकार विशेषज्ञों के साथ मिलकर हालात की लगातार निगरानी कर रही है। वायरस के प्रसार से निपटने के लिए सरकार ने कदम उठाए हैं। उनके मुताबिक देश ने कोरोना की पहली और दूसरी लहर में जो सबक सीखा है उसके चलते इस नए वैरिएंट से देश में पहले जैसा माहौल नहीं बनेगा।

दवाओं का पूरा भंडार

केंद्र सरकार के मुताबिक देश में नए वैरिएंट के मद्देनजर सभी अहम दवाइयों का पर्याप्त भंडार मौजूद है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोरोना रोधी टीके की करीब 17 करोड़ खुराक उपलब्ध हैं। नए वैरिएंट को देखते हुए देश में वैक्सीन की उत्पादन की क्षमता को बढ़ा दिया गया है। अब ये बढ़ कर 31 करोड़ डोज प्रतिमाह हो गई है। आने वाले दो माह में इसको 45 करोड़ डोज प्रतिमाह तक कर दिया जाएगा। मांडविया के मुताबिक देश में अब तक 88 प्रतिशत लोगों को टीके की पहली डोज और 58 प्रतिशत को दोनों डोज दी जा चुकी है।

डब्‍ल्‍यूएच प्रमुख का कहना

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के प्रमुख डाक्‍टर टैड्रोस घेबरेयसस का कहना है कि इस बात के पक्‍के सबूत हैं कि ये वैरिएंट कोरोना के दूसरे वैरिएंट की तुलना में अधिक तेजी से फैलता है और इसकी चपेट में वैक्‍सीन की दोनों खुराक लेने वाले भी आ रहे हैं। उनका ये बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ दिन पहले ही ये रिपोर्ट सामने आई थी कि इसके मामले तीन दिन में दोगुने हो रहे हैं। बता दें कि डेल्‍टा वैरिएंट के भी मामले करीब डेढ़ से तीन दिन के ही अंदर दोगुने हो गए थे।

रखें सावधानी

बता दें कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की तरफ से पहले भी ये चेतावनी दी जा चुकी है कि भीड़-भाड़ वाली जगहों में जानें से बचा जाए। संगठन इस बात को लेकर भी आगाह कर चुका है कि मास्‍क को अपने से दूर करने की लापरवाही जान पर भारी पड़ सकती है। इसलिए इस आदत को नहीं छोड़ना है और एक दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखनी होगी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.