सामान्य हार्ट अटैक नहीं…ब्रेन की नस फटने से हुई पप्पू देव की मौत, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने खड़े किए कई सवाल

पटनाः पुलिस हिरासत में कोसी के डॉन पप्पू देव की मौत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। दरअसल, पप्पू देव की मौत का कारण सामान्य हार्ट अटैक नहीं, बल्कि ब्रेन में हेमाटोमा के कारण कार्डियो रेसपिटरी सिस्टम का फेल होना बताया गया है। इस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार, पप्पू देव के ब्रेन की नस फट जाने से सिर में पूरा खून जमा हो गया, जिसके कारण हार्ट और सांस लेने का सिस्टम फेल हो गया। इतना ही नहीं, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पप्पू के शरीर पर जख्म के 30 गंभीर निशान पाए गए हैं। वहीं अब सवाल खड़ा होता है कि पप्पू के शरीर पर जख्म के निशान कैसे आ गए, जबकि पुलिस कहा कहना था कि गिरफ्तार होने के बाद रात दो बजे पप्पू देव ने सीने दर्द की शिकायत की। उसे इलाज के लिए अस्पताल लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

बता दें कि 18 दिसंबर की रात पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद डॉन संजय देव उर्फ पप्पू देव (51 वर्ष) को गिरफ्तार किया गया था। वहीं 19 दिसंबर की अहले सुबह पुलिस हिरासत में कुख्यात पप्पू देव की मौत हो गई। इसके बाद सदर अस्पताल के तीन डॉक्टरों ने पप्पू देव का पोस्टमार्टम किया, जिसकी रिपोर्ट सदर अस्पताल के MO डॉ. अखिलेश्वर प्रसाद, डॉ. एसके आजाद, एसडीसी नीरज कुमार सिन्हा, डीएस डॉ. एसपी विश्वास के हस्ताक्षर से जारी की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

ब्रेकिंग
अब से कुछ देर में इंदौर में पीएम नरेन्द्र मोदी का रोड शो, देवदर्शन कर करेंगे शुरुआत जबलपुर में परीवा के दिन बंद रहे बाजार, पेट्रोल पंप, पसरा रहा सन्नाटा इंदौर के जीएनटी मार्केट में लकड़ी की दुकानों में भीषण आग, मशीनें भी जली 2024 में भूकंप से तबाह हो जाएंगे कई बड़े शहर, नए नास्त्रेदमस की डरावनी भविष्यवाणी छतरपुर में CM योगी बोले- डबल इंजन की सरकार आपको सुरक्षा की गारंटी देती है Chhath Puja 2023: छठ पूजा पर्व में बिल्कुल न करें ये गलतियां, वरना अधूरा रह जाएगा आपका व्रत कांग्रेस ने हमेशा गरीब और सर्वहारा वर्ग की चिंता की : सुनील शर्मा एक गलती और गई जान! गर्म पानी की बाल्टी में गिरने से ढाई साल के बच्चे की तड़प-तड़प कर मौत इसरो ने रोबोटिक रोवर के मौलिक विचारों और डिजाइन के लिए छात्रों को किया आमंत्रित सामने आया ICC का खास नियम, बिना सेमीफाइनल खेले भारत पहुंच जाएगा फाइनल में