Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

कालीचरण की गिरफ्तारी पर MP के गृह मंत्री ने छत्तीसगढ़ पुलिस पर उठाए सवाल

भोपाल: छत्तीसगढ़ पुलिस की कार्रवाई पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने आपत्ति उठाई है। उन्होंने कहा कि संघीय निमय बिल्कुल इसकी इजाजत नहीं देता है, यह इंटर स्टेट प्रोटोकॉल का उल्लंघन है। कालीचरण की गिरफ्तारी से पहले मध्य प्रदेश पुलिस को जानकारी देनी चाहिए थी। नोटिस दिए बिना गिरफ्तारी करना गलत है। उन्होंने कहा कि मैंने मध्य प्रदेश के डीजीपी को निर्देश दिए हैं कि छत्तीसगढ़ के डीजीपी से इसको लेकर बात करें और गिरफ्तारी के तरीके पर आपत्ति लें और स्पष्टीकरण भी ले।


आपको बता दें कि महात्मा गांधी पर विवादित टिप्पणी करने वाले संत कालीचरण को रायपुर पुलिस ने खजुराहो से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी कालीचरण को अब रायपुर लाने की कार्यवाही की जा रही है। उनके खिलाफ रायपुर समेत देश के कई हिस्सों में केस दर्ज किया गया था। कालीचरण महाराज के खिलाफ रायपुर में धारा 505 (2) और धारा 294 के तहत केस दर्ज किया गया था। रायपुर के पूर्व महापौर और मौजूदा सभापति प्रमोद दुबे ने उनके ऊपर FIR दर्ज करवाई थी।

धर्म संसद में कालीचरण महाराज ने दिया था महात्मा गांधी को लेकर यह विवादित बयान
गौरतलब है कि रायपुर में हुई धर्म संसद में कालीचरण महाराज ने महात्मा गांधी को लेकर काफी अपशब्द बोले थे जिसमें उन्होंने कहा था कि इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के माध्यम से राष्ट्र पर कब्जा करना है। हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में कब्जा कर लिया था। उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था।  उन्होंने राजनीति के माध्यम से बांग्लादेश और पाकिस्तान पर कब्जा कर लिया था। मैं नाथूराम गोडसे को नमन करता हूं कि उन्होंने उस …. को मार डाला।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.