Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

विराट कोहली इस बड़ी वजह से दूसरे टेस्ट मैच से हुए बाहर, केएल राहुल को दी गई कप्तानी

नई दिल्ली। भारतीय टेस्ट टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली अगर जोहानसबर्ग में साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच खेलने उतरते तो ये उनसे टेस्ट करियर का 99वां मैच होता। दूसरा टेस्ट मैच शुरू होने से ठीक पहले पीठ में खिंचाव की वजह से वो प्लेइंग इलेवन से बाहर हो गए। विराट के दूसरे टेस्ट से बाहर होने की वजह से टीम की कप्तानी केएल राहुल को सौंपी गई तो वहीं प्लेइंग इलेवन में उनकी जगह हनुमा विहारी को मौका दिया गया। केएल राहुल को पहली बार भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी का मौका मिला।

विराट कोहली का प्रदर्शन जोहानसबर्ग में टेस्ट क्रिकेट में काफी अच्छा रहा है और यहां पर खेले महज दो टेस्ट मैचों में उन्होंने 310 रन बनाए थे जिसमें एक शतक भी शामिल था। विराट के प्रदर्शन को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा था कि यहां पर उनके शतक का सूखा भी खत्म हो सकता है। विराट साल 2019 के बाद से क्रिकेट के किसी भी प्रारूप में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं और एक बड़ी पारी का इंतजार उनके बल्ले से क्रिकेट फैंस बेसब्री के साथ कर रहे हैं। फिलहाल उनकी पीठ में खिंचाव की वजह से ये इंतजार थोड़ा और लंबा हो गया।

जोहानसबर्ग में टेस्ट मैचों में विराट कोहली के प्रदर्शन की बात करें तो साल 2013 में उन्होंने यहां पर खेले गए टेस्ट मैच की पहली पारी में 119 रन की पारी खेली थी तो वहीं दूसरी पारी में उन्होंने 96 रन बनाए थे। इसके बाद साल 2018 में एक बार फिर से इस मैदान पर कोहली ने पहली पारी में 54 रन जबकि दूसरी पारी में 41 रन की पारी खेली थी। वहीं विराट कोहली के टेस्ट करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक खेले 98 मैचों में 50.34 की औसत से 7854 रन बनाए हैं और 254 रन उनका बेस्ट स्कोर है। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में अब तक कुल 27 शतक लगाए हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.