Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

पटना हाईकोर्ट ने बैंकों से पूछा- कब तक मिलेंगे साइबर क्राइम पीड़ितों के पैसे

पटना: पटना हाईकोर्ट ने साइबर क्राइम करने वाले अपराधियों के साथ ही सम्बंधित बैंकों की भी नकेल कसने के लिए पटना, मुजफ्फरपुर, नवादा, नालंदा और शेखपुरा के एसपी को निर्देश दिया है. साइबर क्राइम से सम्बंधित मामले पर जस्टिस संदीप कुमार ने सुनवाई की. हाईकोर्ट ने बैंक के रवैए पर भी आश्चर्य जताया.कोर्ट ने सम्बंधित बैंको को कहा कि हलफनामा दायर कर बताएं कि जिनका पैसा बैंक से साइबर अपराधियों ने निकाला है, उसे कब तक वापस किया जा सकता है. हाईकोर्ट ने फर्जी दस्तावेज जमा कर मोबाइल सिम लेने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई करने का निर्देश भी पुलिस को दिया. कोर्ट ने सिम कार्ड जारी करने वाले सर्विस प्रोवाइडर को भी चेतावनी देते हुए कहा कि अगर वे फर्जी दस्तावेज पर सिम देने के मामले में लिप्त पाए गए तो उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी.सरकारी वकील झारखंडी उपाध्याय ने कोर्ट को बताया कि साइबर अपराधियों को पकड़ने का अभियान तेज कर दिया गया है. एक बैंक ने पैसा वापस भी कर दिया है. कोर्ट ने कहा कि अगर साइबर अपराधियों के साथ बैंक के किसी कर्मी की संलिप्तता की बात सामने आएगी तो उसे भी दंड भुगतना पड़ेगा. कोर्ट ने सभी सम्बंधित एसपी और बैंकों को की गई कार्रवाई का ब्योरा पेश करने का निर्देश दिया है. मामले पर 27 जनवरी को फिर सुनवाई की जाएगी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.