Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

रिफ्लेक्टर जैकेट, एल्कोमीटर होने के बाद भी रात में ट्रैफिक पुलिस सड़कों से हो जाती है गायब

लुधियाना: ट्रैफिक पुलिस के पास 140 कर्मी हैं तैनातरात होते ही महानगर की सड़कों पर से ट्रैफिक पुलिस गायब हो जाती है। शहर में ना ही कहीं पर कोई नाका लगता है और ना ही जाम लगने पर कोई भी कर्मी वहां पर मौजूद रहता है। ऐसा नहीं है कि ट्रैफिक पुलिस के पास रात के समय नाकाबंदी करने के लिए पुख्ता इंतजाम नहीं है। ट्रैफिक पुलिस के पास रात में ड्यूटी करने के लिए 260 के करीब रिफ्लेक्टर जैकेट, ब्लिंक करने वाली चार्जेबल स्टिक्स व ड्रंक एंड ड्राइव के नाके लगाने के लिए 110 के करीब एल्कोमीटर हैं।इसके बावजूद ट्रैफिक पुलिस के किसी भी अधिकारी द्वारा रात में नाकाबंदी करवाने की कोई व्यवस्था नहीं की जाती। आलम ये रहता है कि रात के 8 बजे के बाद अगर किसी इलाका में जाम लग जाता है तो लोगों को खुद ही कशमकश करनी पड़ती है या फिर कभी कभार पीसीआर दस्ते द्वारा उक्त जाम को खुलवाने को जद्दोजहद करनी पड़ती है। इस समस्या शहर के कई इलाके प्रभावित हैं, लेकिन ट्रैफिक पुलिस की ओर से कोई पुख्ता कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.