Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

भजन गाते फारूक अब्‍दुल्‍ला का वीडियो सोशल मीडिया पर हो रहा वायरल, जानिए- क्‍या है सच्‍चाई

नई दिल्‍ली। जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला का भजन गायन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसे वायरल करते हुए सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि जम्‍मू व कश्‍मीर से धारा 370 हटने के बाद फारूक अब्‍दुल्‍ला में यह बदलाव आया है। यह वीडियो सोशल मीडिया के विभिन्‍न प्‍लेटफार्म पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो के साथ किए गए दावे को लोग सच समझकर जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री पर निशाना साध रहे हैं।

फैक्‍ट चेकिंग वेबसाइट विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की विस्‍तार से जांच की। सच सामने आ गया। दरअसल बरसों पुराना वीडियो उस वक्‍त का है, जब फारूक अब्‍दुल्‍ला ने आसाराम के एक कार्यक्रम में जम्‍मू में भजन गाया था। इस वीडियो का धारा 370 के हटने से कोई संबंध नहीं है।

विश्‍वास न्‍यूज ने सच जानने के लिए सबसे पहले ऑनलाइन टूल की मदद ली। गूगल रिवर्स इमेज टूल के माध्‍यम से ओरिजनल सोर्स को खोजने का प्रयास किया गया। सर्च करने पर वायरल वीडियो पिछले कई बरस से यूट्यूब पर अपलोड मिला। 12 साल पहले एक यूट्यूब चैनल ने वीडियो को अपलोड करते हुए इसे 28 अप्रैल 2001 का बताया। पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए विश्‍वास न्‍यूज ने दैनिक जागरण, जम्‍मू के वरिष्‍ठ संवाददाता राहुल शर्मा से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि फारूक अब्‍दुल्‍ला का यह वीडियो काफी पुराना है। इसका धारा 370 से कोई संबंध नहीं है। गौरतलब है कि जम्‍मू व कश्‍मीर से 5 अगस्‍त 2019 को धारा 370 हटाई गई, जबकि वायरल वीडियो इससे पहले की तारीख में इंटरनेट पर मौजूद है।

विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला से जुड़ी वायरल पोस्‍ट भ्रामक साबित हुई। क्‍योंकि उनके भजन गायन के बरसों पुराने वीडियो को गलत संदर्भ के साथ वायरल किया जा रहा है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.