Logo
ब्रेकिंग
कर्तव्य पथ पर पहली बार मार्च पास्ट करेगी मिस्र सेना की टुकड़ी, परेड में दिखेगा बहुत कुछ नया भारतीय शेयर बाजार विदेशी निवशकों को लगा महंगा रिपब्लिक डे पर एयर इंडिया ने फ्लाइट्स टिकट पर दिया ऑफर छिंदवाड़ा में हिंदूवादी संगठनों ने पठान फिल्म के पोस्टर फाड़े कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय के बयान पर रविशंकर प्रसाद का फूटा गुस्सा मध्य प्रदेश के राज्यपाल भोपाल में और सीएम शिवराज जबलपुर में करेंगे ध्वजारोहण आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच फिर टला मेयर चुनाव, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित मुंबई: देशभक्ति से भरपूर फिल्म है 'पठान' फर्स्ट शो के बाद 300 शो बढ़ाए गए, अब तक की सबसे बड़ी रिलीज ... इंदौर में हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं पर FIR, पठान मूवी के विरोध में मुस्लिम संगठनों पर आपत्तिजनक ना... अब छिंदवाड़ा में पठान का विरोध, राष्ट्रीय हिंदू सेना ने किया पुतला दहन..जमकर की नारेबाजी

छत्तीसगढ़ के बीजापुर के मजदूरों से भरा वाहन तेलंगाना में पलटा, दो की मौत, चार गंभीर

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के बीजापुर ब्लाक के ग्राम पापनपाल, मोरमेड़, कचलाराम, मिड़ते के मजदूर पड़ोसी राज्य तेलंगाना में मिर्च तोड़ने के काम के लिए जा रहे थे। शनिवार को सुबह करीब 11 बजे मजदूरों से भरा वाहन तेलंगाना के पेरुर के पास पलट गया। हादसे में पापनपाल की युवती लक्ष्मी तेलम 27 वर्ष और एक युवती मंडी तेलम मिड़ते 28 वर्ष की मृत्यु हो गई। जबकि चार मजदूरों को गंभीर चोटें आई हैं। जिनको पुलिस ने वारंगल के जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। शेष घायलों का इलाज एटूनगरम (तेलंगाना) के अस्पताल में की जा रही है। पिकअप वाहन बीजापुर के राजेश कश्यप की बताई जा रही हैं।

मजदूर की मौत पर मुख्यमंत्री सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि ने जताया शोक जताया और घायलों बेहतर इलाज के निर्देश दिए हैं। तेलंगाना के वारंगल व एटूनगरम में भर्ती घायलों का बेहतर इलाज के लिए प्रशासनिक स्तर से पहल की गई है। थाना तारलागुडा़ के सहयोग से घायलो की मदद की जा रही है। क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया सतत संपर्क स्थापित कर घायलों को मदद करने के प्रयास में जुटी हैं।

छत्तीसगढ़ से काफी संख्या में मजदूर तेलंगाना जाते है मिर्ची तोड़ने

हर साल छत्तीसगढ़ से हजारों मजदूर मिर्ची तोड़ने तेलंगाना राज्य जाते हैं। बीजापुर जिले के सीमावर्ती राज्य तेलंगाना में ज्यादा मजदूरी मिलने के चक्कर में कोई पैदल तो कई मजदूर वाहनों मिर्ची तोड़ने या अन्य कार्यों से जाते हैं। छत्तीसगढ़ से मजदूरों का पलायन नई बात नहीं है। ठेकेदारों के माध्यम से बीजापुर जिले के मजदूरों को ज्यादा मजदूरी का लालच देकर सीमावर्ती राज्य तेलंगाना में भेजा जाता है। इस मुद्दे पर भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने भी प्रशासन को अवगत करा कर पहल करने तथा पलायन रोकने व बंधक बनाए मजदूरों का रिहाई करने की आवाज उठाई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.