Logo
ब्रेकिंग
शिक्षा, अनुसंधान केंद्र और उद्योगों में साझेदारी समय की आवश्यकता मुख्यमंत्री ने ललित भवन में स्व० ललित नारायण मिश्र जी की प्रतिमा का किया अनावरण मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव मुख्यमंत्री ने लोहिया पथ चक्र के निर्माण कार्य की प्रगति का किया निरीक्षण आंध्र प्रदेश के अमारा राजा प्लांट में आग लगी केंद्र सरकार ने बजट सत्र से पहले बुलाई सर्वदलीय बैठक दिलजीत दोसांझ आएगे नजर फिल्म 'द क्रू' में, तब्बू, करीना और कृति सनोन के साथ मुंबई एयरपोर्ट पर 28.10 करोड़ की कोकीन के साथ तस्कर गिरफ्तार... ठोस क्रियान्वयन के लिए निरंतर सत्यापन किया जाए : राज्यपाल पटेल मध्य प्रदेश में कलेक्टर-कमिश्नर कान्फ्रेंस शुरू, सीएम शिवराज कर रहे अधिकारियों से बात

कोरोना की नई लहर से पैदा हुई चुनौतियों पर हाईलेवल मीटिंग, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिए ये निर्देश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में कोविड संक्रमण से उत्पन्न स्थिति और इससे निपटने की तैयारियों तथा भविष्य की रणनीति पर रविवार को एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की। बैठक में पीएम मोदी ने  ओमीक्रोन स्वरूप के कारण संक्रमण के मामलों में हो रही वृद्धि से निपटने की तैयारियों पर विशेष रूप से ध्यान देने को कहा है। पीएम ने कहा कि जिलों में पर्याप्त स्वास्थ्य बुनियादी ढांचा तैयार करने और किशोरों के टीकाकरण अभियान को मिशन मोड के आधार पर बढ़ावा देने पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस बदल रहा है, इसलिये जांच, टीकाकरण और जीनोम अनुक्रमण सहित निरंतर औषधीय शोध की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोविड-उपयुक्त व्यवहार केंद्रित जन आंदोलन की निरंतरता महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई में महत्वपूर्ण है। पीएम ने कहा कि राज्य संबंधी परिदृश्यों, सर्वोत्तम प्रयासों और सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया पर चर्चा करने के लिए मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक बुलाई जाएगी

मोदी ने कहा कि कोविड पर नियंत्रण के लिए मास्क के इस्तेमाल,  सामाजिक दूरी जरूरी है। कोविड मामलों के प्रबंधन के साथ, गैर कोविड स्वास्थ्य सेवाओं भी जारी रहें। उन्होंने कहा कि सात दिन में 15 से 18 वर्ष के 31 प्रतिशत किशोरों को कोविड रोधी टीके की पहली खुराक दी गई।

बता दें कि प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई इस समीक्षा बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव डॉक्टर पी के मिश्रा, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, गृह सचिव अजय कुमार भल्ला, नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल तथा रेलवे बोडर् के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनय कुमार त्रिपाठी और अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। यह बैठक कोरोना महामारी का प्रकोप फिर से बढ़ने के बीच बुलायी गई।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.