Logo
ब्रेकिंग
573 मीटर ऊंची पहाड़ी पर रोकी पेड़ों की कटाई, अब इस पहाड़ी पर हरे-भरे हैं डेढ़ लाख से ज्यादा पेड़ नाराज मुख्यमंत्री की लगातार 6 पोस्ट, ईडी-आईटी वाले अफसरों को मुर्गा बनाकर पीट रहे हैं, अब शिकायत मिल... रिफ्लेक्टर जैकेट, एल्कोमीटर होने के बाद भी रात में ट्रैफिक पुलिस सड़कों से हो जाती है गायब दिन का तापमान जहां 28 डिग्री, न्यूनतम 8.1 डिग्री पर पहुंचा, सर्द उत्तरी हवाओं से दिन में भी बढ़ी ठिठु... अलीगढ़ में जिला बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन ने कराई प्रतियोगिता, प्रदेश के 200 से ज्यादा युवा हुए शामिल मध्यप्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों से गुजर रही यात्रा, भिलाई नगर विधायक निभा रहे अहम भूमिका 14.5 करोड़ की हेरोइन बरामद, आरोपियों से 20 हजार ड्रग मनी और 2 स्कूटर भी मिले  भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगने पर कांग्रेस नेताओं पर केस दर्ज  ट्रक से टकराए बाइक सवार बुजुर्ग; सिंगोडी बाइपास पर युवक की भी मौत स्टूडेंट्स के उज्ज्वल भविष्य के लिए लिंग्याज की टीम करियर काउंसलिंग कर दिखा रही राह

पटना पुलिस लाइन में एएसआई और कांस्टेबल के बीच जमकर मारपीट, केस दर्ज

पटना: खबर पटना से है जहां न्यू पुलिस लाइन परिसर में एक एएसआई ने सिपाही को कुर्सी से नीचे पटक दिया। फिर मेज से स्टेपलर उठाकर उसके ऊपर फेंक दिया। घटनास्थल पर मौजूद दूसरे पुलिसकर्मियों के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हुआ। पीड़ित जवान संजय कुमार ने एएसआई योगेंद्र के विरुद्ध बुद्धा कॉलोनी थाने में गाली-गलौज और मारपीट का केस दर्ज कराया है। पुलिस मौके पर पहुंच मामले की छानबीन में जुट गई है। पीड़ित ने बताया कि एएसआई ने लिखित प्रतिवेदन देने को लेकर उससे सवाल पूछा और शिकायत वापस लेने को कहा। फिर उसने मारपीट शुरू कर दी। पीड़ित सिपाही संजय मूल रूप से मुजफ्फरपुर का निवासी है। वह नवीन पुलिस केंद्र की अंगरक्षक शाखा में काम करता है। उसने बताया कि वह जब कार्यालय में काम कर रहा था तभी एएसआई योगेंद्र वहां पहुंचे और गाली देते हुए कहा कि मेरे खिलाफ लिखित प्रतिवेदन क्यों दिए हो ? अगर रिपोर्ट वापस नहीं लिये तो बुरा होगा। इसके बाद एएसआइ ने सिपाही को कुर्सी से पटक दिया और पिटाई करने लगा। जख्मी सिपाही को उपचार के लिए ले जाया गया। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। घटना को लेकर जवान संजय कुमार ने एएसआई योगेंद्र के विरुद्ध बुद्धा कालोनी थाने में गाली गलौज और मारपीट का केस दर्ज कराया है। इस घटना को लेकर पुलिस लाइन के कर्मियों में रोष है और वे पूरे मामले में एसोसिएशन के माध्यम से अपनी बात आला अधिकारियों तक पहुंचा चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.